तेजस्वी का तंज, कुछ तो हिम्मत दिखाइए चाचा जी हम साथ हैं

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बिहार सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करने का कोई मौका नहीं चूकते, इस बार उन्होंने  हमला करते हुए नीतीश कुमार को रीढ़विहीन मुख्यमंत्री करारा दिया . तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री मोदी जी और केंद्र सरकार बिहार की विशेष दर्जे की जायज मांग को अस्वीकार करते हैं तो नीतीश जी को अंतरात्मा की आवाज पर तुरंत इस्तीफा देकर एनडीए से गठबंधन तोड़ना चाहिए. उन्होंने कहा कि कुछ तो हिम्मत दिखाइए चाचा जी. हम इस मांग पर साथ हैं. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश जी ने अपने लिए दिल्ली में विशेष आवास और विशेष सुरक्षा के समझौते के तहत बिहार को विशेष दर्जे दिलाने की मांग को कूड़ेदान में डलवा दिया.तेजस्वी का तंज, कुछ तो हिम्मत दिखाइए चाचा जी हम साथ हैं

उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि नीतीश जी को यह हक किसने दिया है कि अपने व्यक्तिगत स्वार्थों की पूर्ति के लिए वो बिहार के साथ हकमारी करें. स्वयंघोषित नैतिक पुरुष जवाब दें. तेजस्वी यादव ने सवालिया अंदाज में निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश जी बताएं उन्होंने किस सीडी और फाइल के डर से अपनी नैतिकता, अंतरात्मा, राजनीति और बिहार के अधिकारों को भाजपा के यहां गिरवी रखा है? शासन इकबाल और स्वाभिमान से चलता है. कितने दिन डरकर वह बिहार का नुक्सान करते रहेंगे.

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर टीडीपी और केंद्र की एनडीए सरकार के बीच मतभेत हुए और कैबिनेट मंत्रियो ने इस्तीफा दिया, इसके तुरंत बाद बिहार सरकार में मंत्री माहेश्वर हजारी ने कहा है कि बिहार को भी विशेष दर्जा मिलना जरूरी है, ये मांग काफी लंबे समय से उठ रही है. माहेश्वर हजारी ने कहा कि इस मुद्दे को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं. नीतीश इस मांग को पीएम के सामने दोहरा सकते हैं. अभी हाल ही में बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी इस मांग को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री को खत भी लिखा था.

You May Also Like

English News