…तो इसलिए सलमान और माधुरी को ‘परदेस’ में नहीं मिला काम

सुपरहिट फिल्म ‘परदेस’ से सुभाष घई ने बॉलीवुड को दो नए चेहरे दिये। इस फिल्म से महिमा चौधरी और अपूर्व अग्निहोत्री ने डेब्यू किया। लेकिन क्या आपको पता है कि शुरुआत में माधुरी दीक्षित और सलमान खान को कास्ट किया जाना था। सुभाष घई ने फिल्म ‘खलनायक’ के सेट पर माधुरी से ‘परदेस’ में उनके किरदार कि चर्चा तक कर ली थी। फिर ऐसा क्या हुआ कि शोमैन सुभाष घई को माधुरी की जगह ‘माधुरी जैसी’ महिमा चौधरी से काम चलाना पड़ा…...तो इसलिए सलमान और माधुरी को 'परदेस' में नहीं मिला काम

अब कुछ ऐसे दिखाई दे रहे हैं शाहिद कपूर, इसलिए कई दिनों से छुपा रहे थे अपना चेहरा

फिल्म ‘परदेस’ की रिलीज के 20 साल पूरे होने पर खुद डायरेक्टर सुभाष घई ने खुलासा किया है कि आखिर क्यों उन्होंने माधुरी दीक्षित और सलमान खान को कास्ट नहीं किया। घई ने बताया, ‘फिल्म त्रिमूर्ति के फ्लॉप हो जाने के बाद मुझ पर दवाब था कि मैं अपनी अगली फिल्म परदेस में शाहरुख खान के साथ माधुरी और सलमान को कास्ट करूं।’ उन्होंने बता, ‘मेरे दफ्तर के लोगों की दलील थी कि बड़ी स्टारकास्ट के कारण फिल्म परदेस की कमाई अच्छी हो सकती है जिससे हम फिल्म त्रिमूर्ति के फ्लॉप होने से हुए नुकसान की भरपाई कर सकते हैं।’

सुभाष घई ने खुलासा किया है कि वह नहीं चाहते थे कि फिल्म ‘परदेस’ की कहानी बड़ी स्टारकास्ट की चकाचौंध में दब जाए। उन्होंने कहा, ‘स्क्रिप्ट के अनुसार तीन बड़े एक्टर्स की जरूरत नहीं थी। शाहरुख खान के अलावा दो नए चेहरों से भी काम हो सकता था।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे एनआरआई के रोल के लिए ऐसा एक्टर चाहिये था जिसे देखकर लगे कि उसे विदेश से बुलाया गया था। इसलिए सलमान खान की जगह अपूर्व को कास्ट किया गया।’ फिल्म में जब महिमा चौधरी का फर्स्ट लुक शेयर किया गया तो उनकी तुलना सीधे माधुरी से होने लगी थी। इनका असली नाम रितु चौधरी है।  

इसके अलावा सुभाष घई ने ये भी खुलासा किया है कि वह वह शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, दिलीप कुमार की तिकड़ी के साथ एक मेगा प्रोजेक्ट पर काम करना चाहते थे। उन्होंने युद्ध पर आधारित अपनी उस फिल्म का नाम ‘मदरलैंड’ तय किया था। उन्होंने बताया कि फिल्म में वह ऐश्वर्या राय, प्रीति जिंटा और महिमा चौधरी को कास्ट करने वाले थे। लेकिन शाहरुख खान ने आखिरी वक्त में अपने हाथ पीछे खींच लिये और ड्रीम प्रोजेक्ट पर पानी फिर गया।
 

सुभाष घई ने बताया, ‘फिल्म परदेस से पहले मैं शहारुख खान के साथ फिल्म ‘शिखर’ बनाने वाला था। यह फिल्म भी युद्ध की पृष्ठभूमि पर आधारित थी। उनके साथ फिल्म में जैकी श्रॉफ को कास्ट किया गया और हिरोइन के लिए नए चेहरे की तलाश थी।’ घई ने बताया कि फिल्म ‘शिखर’ के लिए एआर रहमान ने गाना ‘इश्क बिना क्या जीना यारों’ की रिकॉर्डिंग भी कर ली थी लेकिन इसी बीच फिल्म ‘त्रिमूर्ति’ (1995) के फ्लॉप होने की खबर आई। इसके बाद हमने बड़े बजट वाली ‘शिखर’ की जगह ‘परदेस’ पर फोकस करें। 

You May Also Like

English News