…तो इस तरह से राधे मां ने संभल में लगाई इंग्लिश क्लास!

राधे मां की इंग्लिश क्लास, जानकर हैरानी तो होगी, लेकिन अगर आपने राधे मां की क्लास में हिस्सा नहीं लिया तो पछताएंगे क्योंकि राधे मां ऑन द स्पॉट इंग्लिश भी सिखा देती हैं. ऐसा उन्होंने यूपी के संभल में कर के दिखा दिया. पत्रकार सवाल पूछने आए थे, मगर राधे मां ने सवाल को किनारे कर अपनी इंग्लिश की क्लास शुरू कर दी. मुंबई से चलकर राधे मां गई तो थी संभल के कल्कि महोत्सव में भाग लेने, लेकिन महोत्सव में पत्रकारों से आमना-सामना होते ही राधे मां ने ऐसा ड्रामा किया कि देखने वाले बस देखते ही रह गए....तो इस तरह से राधे मां ने संभल में लगाई इंग्लिश क्लास!

Breaking: बेटियों के पैदा होने पर मिली ऐसी प्रताडऩा की कर ली आत्महत्या!

राधे मां का अंदाज़ देखने लायक था. कल्कि महोत्सव में पहुंची राधे मां ने हाथ जोड़ कर कहा जय माता दी. फिर एक पत्रकार से कह दिया कि उस पर शनि की दशा चल रही है, कनफेस करोगे तो खुश रहोगे. और फिर शुरू हो गई राधे मां की इंग्लिश क्लास. पत्रकारों के सवालों पर जवाब देने के बजाय उल्टे राधे मां ने अंग्रेजी की क्लास शुरू कर दी. और अपने अंदाज में टूकी फूटी अंग्रेजी के वाक्य बोलकर पत्रकारों से उसका अनुवाद पूछने लगी.

जब पत्रकार नहीं माने तो राधे मां का पारा चढ़ गया. आम तौर पर खामोश रह कर विवादों से बचने की कोशिश करने वाली राधे मां इस रोज़ बिल्कुल नए अवतार में नजर आई. ऐसे अवतार में, जहां खामोशी तो दूर जीभ से आग और आंखों से अंगारे निकल रहे थे. उनका गुस्सा देखने लायक था. वो बिल्कुल अलग तरह से दिख रही थी.

कल्कि महोत्सव के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब देते-देते राधे मां एक बार फिर कुछ इतनी बेचैन हुई कि पहले तो गुस्से में लाल-पीली हो गईं और फिर उसी अंदाज़ में रोते-रोते प्रेस कांफ्रेंस बीच में छोड़ कर भाग खड़ी हुई. ठीक जैसे अब से चंद रोज़ पहले आजतक के इंटरव्यू के दौरान वो रोते-रोते कैमरे से भाग गई थीं.

लेकिन राधे मां को इतना गुस्सा आया क्यूं? क्यों पत्रकारों के सवालों से इतनी बौखला गई वो? आख़िर क्यों आरोपों के सवालों पर उल्टा पत्रकारों को ही कटघरे में खड़ा करने लगी वो? आप जब राधे मां का पूरा प्रेस कांफ्रेंस सुनेंगे, तो कभी हैरान होंगे और कभी हंसते-हंसते लोट-पोट हो जाएंगे.

दरअसल, राधे मां पर आरोपों की एक लंबी फेहरिस्त है. इनमें से कुछ आरोप जहां वक्त के साथ हवा हो गए. वहीं कुछ ऐसे भी हैं, जो अब भी उसका पीछा कर रहे हैं. फिर चाहे वो वो आरोप अश्लीलता फैलाने का हो, दहेज के लिए किसी लड़की को सताने का, अपने ही गुरु के खिलाफ़ साज़िश रचने का या फिर आधी रात किसी को टेलीफ़ोन कर धमकाने का. 

लेकिन आज से पहले राधे मां के बारे में कम से कम कोई ये नहीं कह सकता था कि राधे मां ने कभी किसी के साथ बदतमीज़ी की या फिर ऊंची आवाज़ में बात की लेकिन जो आजतक नहीं हुआ था, वो संभल में हो गया. पिछले हफ्ते भर में एक के बाद एक कई इंटरव्यू देने के बाद कैमरे का सामना करने और पत्रकारों के सवालों का जवाब देने के मामले में राधे मां का कान्फीडेंस कुछ इतना हाई हुआ कि सिर से ऊपर से गुज़र गया.

सवालों का सीधा-सीधा जवाब देने या चुप रहने की बजाय राधे मां ने पत्रकारों को ही हड़काना शुरू कर दिया. कभी किसी सवाल पर कहा कि तुम पर शनि की दशा चल रही है, तो कभी कहा कि तुम क्या दूध को धुले हो. लेकिन जब पत्रकारों ने राधे मां के इस अंदाज़ पर ऐतराज़ किया, तो देखिए राधे मां कैसे पलट गई. कहा, मैं तो मां हूं क्या मां को अपने बच्चों पर गुस्सा करने का भी हक नहीं है. बल्कि साथ ही साथ ये भी जोड़ दिया कि मां तो बच्चों के सामने नखरे भी करती है और बच्चों को वो हर नखरे उठाने ही पड़ते हैं.

वैसे इस प्रेस कांफ्रेंस के दौरान इंग्लिश की दो चार पंक्तियां और अल्फ़ाज़ बोलकर राधे मां ने शायद ये भी साबित करने की कोशिश की कि पढ़े लिखे होने के मामले में कोई भी उसे उन्नीस समझने की ग़लती ना करे. तभी तो देखिए अपनी पढ़ाई लिखाई से जुड़ी एक सवाल पर राधे मां कैसे हत्थे से उखड़ गई. गोया जैसे इंग्लिश बोलना ही किसी के पढ़े लिखे या अनपढ़ होने का पैमाना हो.

वैसे इन सबके बीच एक और मज़ेदार बात ये रही कि राधे मां ने अबकी एक बार फिर अपना वही सालों पुराना जुमला बोल डाला, जो उसने खुद पर दहेज का आरोप लगने के बाद पहली बार कैमरे का सामना करते हुए बोला था. जी हां, वहीं आई एम प्योर एंड पायस वाला. बल्कि इस बात तो खुद को प्योर एंड पायस बता कर पत्रकार से भी पूछ डाला कि बताओ क्या समझे.

यहां तक तो सबकुछ ठीक था, हद तो तब हो गई जब राधे मां ने गुस्से में एक पत्रकार को श्राप ही दे डाला. एक सवाल पर इतनी बौखलाई कि कहा तुम देखना कि अगले 15 दिनों में तुम्हारे साथ क्या होता है? वो पत्रकार समझदार निकला, जिसने इस श्राप को हवा में उड़ा दिया, वरना कोई भक्त टाइप आइटम होता तो शायद इसी श्राप पर उसका दिल बैठ गया होता.

और फिर होते-होते हालत ये हुई कि कार्यक्रम के आयोजकों को ही बीच बचाव के लिए आना पड़ा लेकिन आखिरकार इस प्रेस कांफ्रेस का दि एंड भी कुछ वैसे ही हुआ, जैसे हाल के दिनों राधे मां के इंटरव्यू और प्रेस कांफ्रेंसेज़ का होने लगा है. जी हां, वही रो-धो कर राधे मां भाग निकली.

loading...

You May Also Like

English News