तो क्या सच में 31 दिसंबर को राजनीति में एंट्री करेंगे सुपरस्टार रजनीकांत?

थलैवा यानी बॉस, तमिल सिनेमा के सुपरस्टार रजनीकांत कल से अपने प्रशंसकों से मिलने वाले हैं और पिछली बार की तरह इस बार भी यही कयास लगने लगे हैं कि वह राजनीति में एंट्री मारने वाले हैं.

तमिल सिनेमा के सुपरस्टार रजनीकांत का अपने प्रशंसकों से मिलने का 6 दिवसीय कार्यक्रम 26 दिसंबर से शुरू हो रहा है जो 31 दिसंबर तक चलेगा. इस दौरान थलैवा के नाम से मशहूर रजनीकांत तमिलनाडु के चेन्नई में राघवेंद्र कल्याणा मंडपम में अपने प्रशंसकों से मिलेंगे.

पिछली बार इस सुपरस्टार ने मई में अपने प्रशंसकों से मुलाकात की थी और उस समय ही यह खबर उड़ी थी कि वह राजनीति में आने वाले हैं.

हालांकि इस बार उनके करीबियों ने अपने अंदाज में इस बात को फिर से हवा देना शुरू कर दिया है. उनका कहना है कि 31 दिसंबर को रजनी सर कुछ बड़ा ऐलान कर सकते हैं. तय कार्यक्रम के अनुसार उनका 31 दिसंबर को अपने प्रशंसकों से मिलने का आखिरी दिन होगा.

इससे पहले इस साल मई में उन्होंने यह कहकर कयास को जिंदा रखा था कि “अगर भगवान की इच्छा होगी तो भविष्य में मैं राजनीति में प्रवेश कर सकता हूं.” हालांकि राजनीति में उनकी एंट्री को लेकर अभी कुछ भी कह पाना संभव नहीं है.

केंद्र और 19 राज्यों में सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पहले ही इस सुपरस्टार को पार्टी में शामिल होने का निमंत्रण दे चुकी है. अब सबकी नजर इस बात पर है कि वह किसका दामना थामते हैं या फिर वह अपनी स्वतंत्र पार्टी का गठन करेंगे.

अब जब तमिल की राजनीति में लोकप्रिय जयललिता युग का अंत हो चुका है वहीं डीएमके के बुजुर्ग नेता एमके करुणानिधि काफी बुढ़े हो चुके हैं, ऐसे में तमिल राजनीति में नए नेतृत्व की तलाश है. समय के आधार पर देखा जाए तो दक्षिण सिनेमा की 2 दिग्गज हस्तियों सुपरस्टार कमल हासन और रजनीकांत पर सभी की नजर है.

फिलहाल दोनों दिग्गज अपने स्तर पर प्रशंसकों के सहारे राजनीति की दहलीज तक पहुंचते दिख रहे हैं, अब देखना होगा कि दोनों की एंट्री कब और किस तरह की होती है.

You May Also Like

English News