…तो APPLE बनेगी दुनिया की पहली 1 हजार अरब डॉलर की कंपनी

सैन फ्रांसिसको: ‘उम्मीद से बेहतर’ आईपैड और आईफोन की बिक्री के अलावा एपल की आगामी आईफोन 8 डिवाइस की बिक्री से अमेरिका की कपर्टिनो की यह दिग्गज कंपनी दुनिया की पहली कंपनी बन सकती है, जिसका बाजार मूल्य 1000 अरब डॉलर होगा.  मार्केट वॉच में बुधवार देर रात प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, एपल की तीसरी तिमाही के नतीजों के घोषणा के बाद से ही कंपनी के बाजार पूंजीकरण में 56 अरब डॉलर की बढ़ोतरी हुई है.  ...तो APPLE बनेगी दुनिया की पहली 1 हजार अरब डॉलर की कंपनीअभी-अभी: अब Jio को टक्कर देने के लिए Aircel लाया ये दमदार प्लान

एपल के शेयरों में तेजी 

निवेश सेवा कंपनी आरबीसी कैपिटल के विश्लेषकों ने अनुमान लगाया है कि एपल के शेयरों में यह तेजी जारी रहेगी, क्योंकि एपल सितंबर के मध्य में अपना फ्लैगशिप डिवाइस आईफोन 8 लांच करने जा रही है. आरबीसी के विश्लेषकों का कहना है कि आईफोन 8 के लांच से कंपनी को काफी फायदा होगा. प्रमुख विश्लेषक अमित दरयानानी के हवाले से बताया गया, “एपल में 1000 अरब डॉलर की बाजार पूंजीकरण हासिल करने की क्षमता है और यहां तक कि अगले 12 से 18 महीनों में इससे भी ज्यादा बढ़ने की क्षमता है.”

प्रीमियम मॉडल से मुनाफा

विश्लेषकों का कहना है कि नए आईफोन के मॉडल से प्रति शेयर 12 डॉलर तक का मुनाफा होगा. इस उच्च कीमत के प्रीमियम मॉडल से मुनाफा बढ़ेगा, लागत पर नियंत्रण और शेयर बायबैक से कंपनी के मूल्य में और वृद्धि होगी. दरयानानी का कहना है कि एपल के शेयरों की कीमत वर्तमान स्तर 160 डॉलर से बढ़कर 192 डॉलर तक हो सकती है. यह कंपनी द्वारा शेयर बायबैक की दर पर निर्भर करता है. इस तरह एपल का बाजार मूल्य 1000 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगा.

You May Also Like

English News