दाऊद की संपत्ति पर लगाई थी बोली, छोटा शकील ने भेजा SMS- जला दूंगा

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कार खरीदकर गाजियाबाद में जलाने वाले स्वामी चक्रपाणी अब दाऊद की संपत्ति खरीदने की तैयारी में है. चक्रपाणी ने ऐलान किया कि वे दाऊद की संपत्ति खरीदकर उस पर शौचालय बनवाएंगे.दाऊद की संपत्ति पर लगाई थी बोली, छोटा शकील ने भेजा SMS- जला दूंगाअभी-अभी: कश्मीर की CM महबूबा ने दिया बड़ा बयान, कहा- आजादी नहीं किसी और विचार की जरूरत

मुंबई में शुक्रवार को दाऊद की संपत्ति पर बोली लगाने की आखिरी तारीख थी. जिसके चलते चक्रपाणी मुंबई पहुंचे और संपत्ति पर बोली लगाईं.

बता दें कि स्वामी चक्रपाणी तब सुर्ख़ियों में आए थे जब उन्होंने गाजियाबाद में दाऊद की कार में आग लगवा दी थी. उस वक्त मुंबई में हुई नीलामी में स्वामी ने उस कार को 32 हजार रुपये में खरीदा था.

दाऊद की कार जलाने से दाऊद का गुर्गा शकील बौखला गया था और उसने अपने शूटर को स्वामी को मारने के लिए भी भेजा था, लेकिन दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने हमलावरों जुनैद और रॉबिंसन के साथ-साथ 4 लोगों की गिरफ्तार किया था. इस साजिश का खुलासा होने के बाद स्वामी को जेड प्लस सुरक्षा मिली थी.

स्वामी ने शकील का एसएमएस भी मीडिया को दिखाया, जिसमें शूटरों के पकड़े जाने के बाद शकील ने स्वामी से कहा कि ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं. मैं अपने दुश्मनों के साथ वीडियो गेम की तरह खेलता हूं. जैसे कार जलाई वैसे जला दूंगा. स्वामी का कहना है कि वो ऐसे गुंडों से नहीं डरता, इनका काम ही लोगों को डरा कर उगाही करना है इसलिए इनकी दहशत कम होनी चाहिए. 

उस वक्त चार्जशीट में पुलिस ने खुलासा किया था कि अंडरवर्ल्ड डॉन और छोटा शकील ने कराची में बैठकर हत्या की साजिश रची और दिल्ली में पैसे भी पहुंचाए.

बताया जाता है कि दाऊद की हिट लिस्ट में उसके दो दुश्मन हैं. इनमें चक्रपाणी महाराज के अलावा दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद डी-कंपनी का दुश्मन छोटा राजन है. दाउद हर हाल में उसे भी मारना चाहता था. लेकिन छोटा राजन के भारतीय एजेंसियों के जरिए गिरफ्तार होने के बाद दाउद का ये सपना अधूरा ही रह गया. हालांकि, दाउद का सबसे करीबी छोटा शकील मीडिया के जरिए उसे मारने कसमें अभी बार-बार खाता रहा है.

ऑल इंडिया हिंदू महासभा का राष्ट्रीय अध्यक्ष होने का दावा करने वाले स्वामी चक्रपाणि ने कहा, ‘दाऊद इब्राहिम और उसके गुर्गो ने देश में और खासकर मुम्बई में जो आतंकवाद फैलाया, कार को जलाना सांकेतिक रूप से उसी आतंकवाद का अंतिम संस्कार है.’

You May Also Like

English News