घर वाले कर चुके थे अंतिम संस्कार का पूरा इंतजाम, और तभी उठ खड़ा हुआ महिला का शव

इडुक्की: दादी-अम्मा के किस्से कहानियों में आपने मरे हुए इंसान के जिंदा होने की बातें कई बार सुनी होगी, लेकिन इस बार ऐसा ही एक मामला केरल में सामने आया है. हालांकि डॉक्टरों ने इस घटना की पुष्टि नहीं की है. बताया जा रहा है कि एक मरी हुई महिला को रिश्तेदार मोबाइल शवगृह में ले जा रहे थे तभी वह जिंदा हो गई. आनन-फानन में महिला को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसका इलाज जारी है. घर वाले कर चुके थे अंतिम संस्कार का पूरा इंतजाम, और उठ खड़ा हुआ महिला का शव

51 वर्षीय रत्ना अम्मा गंभीर रूप से बीमार थी और पिछले तीन महीनों से पड़ोसी राज्य तमिलनाडु के मदुरै के एक मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज करवा रही थी.

ये भी पढ़े: Big Breaking: अभी-अभी फर्रूखाबाद में मिला टाइम बम, मची हड़कम्प !

डॉक्टरों ने मंगलवार को उन्हें यह कहते हुए अस्पताल से छुट्टी दे दी थी कि अब उन्हें घर ले जाया जा सकता है.

इसके बाद बुधवार सुबह महिला को घर लाया गया और रिश्तेदारों ने पाया कि उनके शरीर में कोई हरकत नहीं हो रही है. इसके बाद रिश्तेदारों ने उन्हें मृत समझ लिया.

ये भी पढ़े: जानिए क्या है कलेक्शन, हांगकांग में दूसरे हफ्ते भी दिखा आमिर खान की ‘दंगल’ का जलवा

हालांकि उनका ‘शव’ मोबाइल शवगृह में रखा जाने वाला ही था तभी कुछ पड़ोसियों ने उनके हाथों में कुछ हरकत देखी.
इस बारे में तत्काल पुलिस को सूचना दी गई और महिला को यहां के सेंट जोन अस्पताल में भेजा गया. डॉक्टरों ने उनकी हालत नाजुक बताई है.

loading...

You May Also Like

English News