दिल्ली में बारिश ने तोड़ा जून के 10 साल का रिकार्ड, अब 4 जुलाई तक रहेगा मानसून…

दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर पश्चिम भारत में बुधवार को शुरू हुई बारिश बृहस्पतिवार को भी जारी रही। बृहस्पतिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक चौबीस घंटे के दौरान 52.6 मिमी बारिश हुई जो पिछले दस साल में 19 जून 2013 के बाद सबसे अधिक है।दिल्ली में बारिश ने तोड़ा जून के 10 साल का रिकार्ड, अब 4 जुलाई तक रहेगा मानसून...GST: लागू होने के रूप में 70 साल बाद संसद में फिर सजेगी सितारों की महफिल..

इस बारिश के कारण तापमान में भी गिरावट देखने को मिली। इसी तरह उत्तराखंड के देहरादून में 110 मिमी, हरियाणा के हिसार में 100 मिमी, अमृतसर व दिल्ली के लोधी रोड पर 60 मिमी बारिश हुई।

मौसम विभाग ने 30 जून से 4 जुलाई के बीच सबसे पहले पूर्वी यूपी फिर पश्चिम यूपी, दिल्ली-एनसीआर और उत्तराखंड व हरियाणा के कुछ हिस्सों में मानसून पहुंचने की नई भविष्यवाणी की है।

मौसम वैज्ञानिकों ने शुक्रवार को दिल्ली-एनसीआर में निम्न से मध्यम बारिश के साथ-साथ कुछ इलाकों में बौछार पड़ने की भविष्यवाणी की है, तो कई जगह भारी बारिश भी हो सकती है। अधिकतम तापमान 32 डिग्री व न्यूनतम 25 डिग्री रहने की संभावना है।

दिल्ली-एनसीआर में मानसून की घोषणा अभी मौसम विभाग ने नहीं की है लेकिन पिछले दस साल में जून महीने में सबसे अधिक 175.4 मिमी बारिश का रिकार्ड जरूर बन गया है। इससे पहले 2007 में जून महीने में 150.9 मिमी बारिश का रिकार्ड रहा है। हालांकि जून महीने में सबसे अधिक बारिश का ऑल टाइम जून 1936 के नाम 414.8 मिमी के साथ दर्ज है। 

दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री नीचे 31.4 डिग्री और न्यूनतम तापमान सामान्य से 4 डिग्री नीचे 24.2 डिग्री दर्ज किया गया। हवा में नमी की मात्रा 74-100 फीसदी के बीच रही। अधिकतम तापमान भी इतना नीचे जून महीने में पिछले दस साल के दौरान 2013 में ही 17-18 जून को क्रमश: 31 डिग्री व 30 डिग्री दर्ज किया गया था।

You May Also Like

English News