दिल्ली: मेजर ने दूसरे मेजर की पत्नी का इसलिए कर दिया मर्डर

नारायणा थाना क्षेत्र में शनिवार को मेजर की पत्नी की हत्या के मामले में पश्चिमी जिला पुलिस ने मुख्य आरोपित मेजर निखिल हांडा को मेरठ के कांकरखेड़ा से गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस की टीम रविवार दोपहर उसे लेकर यहां पहुंची।

शादी से मना किया तो मेजर ने शैलजा को मार डाला

पश्चिमी जिले के पुलिस उपायुक्त विजय कुमार ने बताया कि आरोपित मेजर निखिल हांडा शैलजा द्विवेदी पर पति से संबंध तोड़ने और उससे शादी करने का दबाव बना रहा था, लेकिन शैलजा ने इन्कार कर दिया तो उसने हत्या कर दी।

प्रेम प्रसंग को लेकर हुई हत्या

जानकारी के मुताबिक, यह हत्या प्रेम प्रसंग को लेकर हुई है। 2009 में शैलजा का विवाह अमित द्विवेदी के साथ हुआ था। शैलजा अमृतसर की रहने वाली थी और उसका झुकाव ग्लैमर की दुनिया की तरफ था। पिछले साल जुलाई में मिसेज इंडिया अर्थ मैगजीन के कवर पर शैलजा की फोटो भी छपी थी. वह एक एनजीओ में भी काम कर चुकी थी।

पुलिस के मुताबिक, आरोपित मेजर निखिल हांडा और शैलजा के पति की पोस्टिंग नगालैंड के दीमापुर में थी। 2015 में निखिल व शैलजा की मुलाकात हुई और दोनों के बीच दोस्ती शुरू हो गई। इस बीच शैलजा के पति का चयन संयुक्त राष्ट्र के मिशन के लिए हो गया और वह परिवार सहित दिल्ली आ गए। पति-पत्नी व बच्चे सभी दिल्ली कैंट स्थित ऑफिसर्स क्वार्टर में रह रहे थे।

इस बीच आरोपित मेजर निखिल हांडा भी माइग्रेन की बात कहकर इलाज के लिए दिल्ली आ गया। यहां आर्मी के बेस अस्पताल में वह भर्ती हो गया। शैलजा भी पैर दर्द की शिकायत होने पर फिजियोथेरेपी के लिए यहां रोजाना आती थीं और दोनों की यहीं मुलाकात होती थी।

सूत्र बताते हैं कि आरोपित मेजर को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी, लेकिन इसके बाद उसने अपने बेटे को पेट संबंधी बीमारी का हवाला देते हुए इसी अस्पताल में भर्ती करा दिया। इस दौरान वह शैलजा पर शादी का दबाव बनाता रहा। शनिवार को दोनों बेस अस्पताल से एक साथ होंडा सिटी कार से निकले थे। यहां से निकलने के बाद दोनों दिल्ली कैंट मेट्रो स्टेशन के पास सुनसान जगह पर पहुंचे। वहां कार में ही दोनों के बीच काफी देर तक वाद-विवाद होता रहा।

पुलिस के अनुसार, शैलजा द्वारा पति को छोड़ने के लिए तैयार नहीं होने पर आरोपित मेजर के साथ उनका विवाद इस कदर बढ़ गया कि उसने गले पर चाकू से वार कर दिया। इसके बाद मामले को दुर्घटना का रूप देने की कोशिश की। मौके पर पुलिस को टायर के रगड़ के निशान भी मिले।

पुलिस ने शैलजा के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल खंगालनी शुरू की। उनके पति ने भी निखिल पर शक जताया। कॉल डिटेल से पुलिस को पता चला कि शैलजा और निखिल के बीच काफी बात हुई है। सीसीटीवी फुटेज व सर्विलांस की मदद से पुलिस की टीम ने आरोपित को मेरठ के कंकरखेड़ा रोड से दबोच लिया।

आरोपित निखिल तीन-चार वर्ष मेरठ छावनी में तैनात रह चुका है

मेजर निखिल हांडा मूलरूप से दक्षिणी दिल्ली के साकेत का रहने वाला है। उसके पिता मर्चेंट नेवी में कैप्टन थे। बरसों पहले वह दिल्ली में बस गए थे। निखिल की पोस्टिंग फिलहाल दिल्ली में थी, लेकिन वह तीन-चार वर्ष मेरठ छावनी में तैनात रह चुका है।

You May Also Like

English News