दिवाली पर जियो का ऐसा ऐलान, जिससे हिल गई पूरी दुनिया

मुंबई : JIO दिवाली पर एक और धमाका करने वाला है। और ये धमाका उपभोक्ताओं के लिए नहीं कर्मचारियों के लिए किया जा रहा है।दिवाली पर जियो का ऐसा ऐलान, जिससे हिल गई पूरी दुनिया

देश की सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाली कंपनी Reliance Industries ने अपनी सब्सिडियरी कंपनी Reliance Jio के टॉप परफॉर्मर्स की सैलरी में 10-15 फीसदी की बढ़ोतरी की है। अंग्रेजी अखबार इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक टेलीकॉम सेक्टर में अपने साथ टॉप टैलंट को बरकार रखने के लिए कंपनी ने बड़े इन्क्रीमेंट का ऐलान किया है।

जियो के कर्मचारियों को मिला 15 फीसदी की बढ़ोतरी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जियो के बेस्ट जूनियर और मिडल लेवल मैनेजरों की सैलरी में 15 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। सीनियर एग्जिक्युटिव्स (डीजीएम और उससे ऊपर) को 10 फीसदी का इन्क्रिमेंट मिला है।
सैलरी में बढ़ोतरी सभी यूनिट्स में की गई है। मसलन नेटवर्क/नेटवर्क आईटी ऐंड सपॉर्ट, सेल्स ऐंड मार्केटिंग, कस्टमर केयर, प्रॉजेक्ट्स, रेग्युलेटरी ऐंड एचआर।
 
अन्य सेक्टर के मुकाबले हुई ज्यादा बढ़ोतरी
टेलीकॉम सेक्टर में सालाना ऐवरेज इन्क्रिमेंट के मुकाबले जियो की बढ़ोतरी थोड़ी ज्यादा है।
फाइनेंशियल ईयर 2016 में टेलीकॉम सेक्टर में एंप्लॉयीज की सैलरी में 7 से 12 फीसदी की बढ़ोतरी हुई।
कंसल्टेंट्स का यह भी मानना है कि जियो की सैलरी में बढ़ोतरी से एट्रिशन (एंप्लॉयीज के कंपनी छोड़ने का ट्रेंड) रोकना मुमकिन नहीं होगा।
 
हाल में टॉप अधिकारी दे चुके हैं इस्तीफा 
पिछले महीने कंपनी के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर प्रदीप श्रीवास्तव ने इस्तीफा दे दिया। वह यहां एक साल तक रहे।
इससे पहले कंपनी के चीफ क्लाउड आर्किटेक्ट सोरेन एल हेन्सन, असिस्टेंट वाइस प्रेजिडेंट (डेटा सायंसेज ऐंड ऐनालिटिक्स ऑफ क्लाउड इंजिनियरिंग) हरि चरण राव ने इस्तीफा दिया था।
इससे पहले असिस्टेंट वाइस प्रेजिडेंट (सिक्यॉरिटी ऑपरेशंस) माया आर नायर और पब्लिक वाई-फाई यूनिट के बिजनेस हेड पवन एस यादव ने थोड़े-थोड़े अंतराल पर ही कंपनी छोड़ी थी। जून में जियो के मोबिलिटी बिजनस के हेड अमिताभ जयपुरिया ने भी निजी कारणों से इस्तीफा दे दिया था।
 
टैलंट जुटाने में जियो को ज्यादा नहीं होगी दिक्कत 
रिक्रूटमेंट फर्म एबीसी कंसल्टेंट्स के मुताबिक चूंकि जियो बड़े पैमाने पर हायरिंग कर रहा है और इस सेक्टर की उभरती हुई कंपनी है, लिहाजा उसे टैलंट हासिल करने में दिक्कत नहीं होगी।
अच्छे रिजल्ट्स के बाद किया बोनस का एलान
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जनवरी-मार्च क्वार्टर में 7,630 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था।
कंपनी ने उस समय जूनियर और मिड लेवल के कर्मचारियों के लिए 100 फीसदी एनुअल कैश बोनस का भी एलान किया था।
कर्मचारियों के लिए है सीएपी
रिलायंस इंडस्ट्रीज का एचआर डिपार्टमेंट कर्मचारियों के लिए सीएपी (करियर एक्सिलरेटेड प्रोग्राम) चलाती है।
इससे कर्मचारियों को अपनी बेहतर ग्रोथ और कार्यक्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है।
 

You May Also Like

English News