दुखद ! संतान नहीें हुई तो महिला ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान

लखनऊ संतान न होने का कष्टï एक महिला से बेहतर कौन समझ सकता है। शायद यही वजह रही कि संतान नहीें हुई तो महिला ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान। विकासनगर इलाके में रहने वाले बाइक मैकेनिक की पत्नी ने पति व ससुराल वालों की प्रताडऩा सा तंग आकर अपनी जान दे दी। महिला के कोई संतान नहीं थी, बस इसी बात को लेकर ससुराल वाले उसको प्रताडि़त करते थे। मृतक के भाई ने इस मामले में बहन के पति, सास, और ननद के खिलाफ बहन को आत्महत्या के लिए उकसाने की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

आलमबाग के जेल रोड निवासी परमानंद ने 8 दिसम्बर वर्ष 2009 को अपनी बहन 35 वर्षीय रीना कुमार की शादी विकासनगर के सेक्टर-5 में रहने वाले बाइक मैकेनिक अजय कुमार कनौजिया से की थी। शादी के कुछ साल तक तो सब कुछ ठीक रहा। इसके बाद जब रीना के कोई संतान नहीं हुई तो पति व ससुराल वाले उसको इसके लिए दोषी मानने लगे।

बस इस बात को लेकर पति व ससुराल वाले रीना को प्रताडि़त करने लगे। बताया जाता है कि शनिवार की सुबह रीना के पति अजय कुमार ने अपने साले को फोन किया और बताया कि रीना ने कुछ खा लिया है। अजय के फोन आने के बाद रीना के मायके वाले कुछ ही देर में उसकी ससुराल पहुंच गये। ससुराल में मायके वालों को रीना का शव एक कमरे में लगे पंखे में लटकता मिला। रीना का शव देखते ही मायके वालों ने इस बात सूचना विकासनगर पुलिस को दी। सूचना मिलते ही मौके पर विकासनगर पुलिस भी पहुंच गयी।

 पुलिस ने छानबीन कर रीना के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रीना के भाई का आरोप है कि रीना को उसके पति अजय, सास शीला और ननद सीमा ने इतना प्रताडि़त किया कि उसने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने परमानंद की शिकायत पर उन लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

You May Also Like

English News