दुनिया के किसी भी एयरपोर्ट पर दिखा नीरव मोदी, तो CBI को मिलेगी खबर

PNB महाघोटाले में सुरक्षा एजेंसियों की कार्रवाई ने अब रफ्तार पकड़ ली है. सीबीआई ने घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को पकड़ने के लिए इंटरपोल की मदद मांगी है. इसके लिए दुनिया भर के एयरपोर्ट को नोटिस दिया जा चुका है, ताकी अगर नीरव कहीं जाने की कोशिश करे तो भारतीय एजेंसियों को पता चल सके.दुनिया के किसी भी एयरपोर्ट पर दिखा नीरव मोदी, तो CBI को मिलेगी खबर

इससे पहले भी इंटरपोल के जरिए ये नोटिस जारी किया जा चुका था, लेकिन वो कुछ ही देशों के लिए था. अब ये नोटिस दुनिया भर के लिए है. हालांकि, नीरव मोदी अभी कहा हैं इस बात की सीबीआई के पास अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं है. 

आपको बता दें कि मामले में अधिकारियों की धर-पकड़ का सिलसिला लगातार जारी है. सीबीआई, ईडी समेत कई सुरक्षा एजेंसियों ने पिछले दिनों देशभर में छापेमारी की. वहीं अधिकारियों से पूछताछ के दौरान उन्होंने सीबीआई को बताया है कि उन्हें हर LoU के लिए कुछ निश्चित प्रतिशत राशि मिलती थी. ये राशि LoU की राशि के आधार पर तय होता था.

ये राशि पीएनबी में सभी कर्मचारियों में बराबर हिस्से में बांटी जाती थी, जो भी इस प्रक्रिया में शामिल होते थे. सीबीआई को उन सभी लोगों के नाम दे दिए गए हैं, जिनसे उन्हें पूछताछ करनी है. सीबीआई ने बैंक अधिकारियों से उन सभी बैंक ब्रांच के बारे में भी पूछा जहां पर लगातार रेड मारी जा रही है. 

बैंक अधिकारियों ने सीबीआई को बताया कि स्विफ्ट प्रोसेस का इस्तेमाल कई अधिकारियों के द्वारा किया जाता था, जिसमें गोकुलनाथ शेट्टी भी शामिल था. शेट्टी ने कई पासवर्ड के जरिए फ्रॉड को अंजाम देने में मदद की. पूछताछ में सामने आया है कि इस फ्रॉड स्कैम में ना सिर्फ पीएनबी के अधिकारी बल्कि नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की कंपनी के कर्मचारी भी शामिल थे.

नीरव के भाई ने दी बैंक अधिकारियों को धमकी

वहीं पीएनबी के अधिकारियों ने पूछताछ के दौरान ईडी को बताया कि सीबीआई से शिकायत करने से पहले उन्होंने नीरव मोदी के भाई इस बारे में बात की थी. उन्हें ब्रांच दफ्तर में बुलाया गया था.

पहले तो नीरव के भाई ने पैसा लौटाने से मना किया और कहा कि उनके पास अभी पैसा नहीं है. जब बैंक अधिकारियों ने पैसा लौटाना जरूरी बताया तो नीरव मोदी ने धमकाते हुए कहा कि बैंक जो भी कर सकता है कर ले. इसके अगले ही दिन बैंक ने सीबीआई को शिकायत कर दी थी, लेकिन सीबीआई कोई भी एक्शन करे उससे पहले ही नीरव मोदी अपने परिवार और साथियों के साथ देश छोड़ चुके थे.

You May Also Like

English News