दुल्हन की तरह सज नैनी-दून शताब्दी एक्सप्रेस हुर्इ रवाना, ये बने पहले यात्री

जनशताब्दी से दून जाने का इंतजार आखिरकार आज खत्म हो गया। पहले सफर पर नैनी-दून जनशताब्दी एक्सप्रेस को दुल्हन की तरह सजाकर रवाना किया गया। शनिवार को काठगोदाम स्टेशन पर भव्य उद्घाटन समारोह में हरी झंडी दिखाकर व रेलमंत्री पीयूष गोयल ने दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जनशताब्दी के चलने की घोषणा की। शनिवार को काठगोदाम में आयोजित कार्यक्रम में दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नैनी दून जनशताब्दी एक्सप्रेस को हरी झडी दिखाते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यह ट्रेन बड़ी उपलब्धि है। इससे कुमाऊं के लोगों को बड़ा फायदा मिलेगा।जनशताब्दी से दून जाने का इंतजार आखिरकार आज खत्म हो गया। पहले सफर पर नैनी-दून जनशताब्दी एक्सप्रेस को दुल्हन की तरह सजाकर रवाना किया गया। शनिवार को काठगोदाम स्टेशन पर भव्य उद्घाटन समारोह में हरी झंडी दिखाकर व रेलमंत्री पीयूष गोयल ने दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जनशताब्दी के चलने की घोषणा की। शनिवार को काठगोदाम में आयोजित कार्यक्रम में दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नैनी दून जनशताब्दी एक्सप्रेस को हरी झडी दिखाते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यह ट्रेन बड़ी उपलब्धि है। इससे कुमाऊं के लोगों को बड़ा फायदा मिलेगा।   उन्होंने कहा कि चार धाम रेल लाइन से जोड़ने के लिए सर्वे हो रहा है। यह ऐतिहासिक कार्य होगा। इसके अलावा उत्तराखंड की सभी ट्रेनों को इलेक्ट्रिक से जोड़ने के लिए काम किया जा रहा है। इससे उत्तराखंड में पर्यावरण सुरक्षित रहेगा। डीजल से चलने वाली गाड़िया खत्म हो जाएंगी। रेल मंत्री ने कहा, रेलवे आगे भी इसी तरह नई ट्रेनें चलाते रहेगा। उन्होंने कहा कि अभी उत्तराखंड में केवल 7 स्टेशनों में वाई-फाई की सुविधा है। आने वाले समय में सभी स्टेशनों को वाईफाई से जोड़ दिया जाएगा। सासद व पूर्व सीएम भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि इस ट्रेन से पर्यटन को लाभ मिलेगा विकास की गति तेजी से बढ़ेगी।    पहाड़ के दस हजार यात्रियों ने चुकाया तीन गुना किराया, जानिए वजह यह भी पढ़ें राज्य सभा सदस्य अनिल बलूनी ने कहा कि नैनी दून जनशताब्दी एक्सप्रेस के चलने से लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। लोग खुश हैं। अब अब एक ही दिन में देहरादून से हल्द्वानी का सफर तय कर सकते हैं। सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि जब तक कर्ण प्रयाग और बागेश्वर तक ट्रेन नहीं पहुंच जाती। हमें मोदी के हाथ मजबूत करने होंगे। आज ट्रेन के सभी टिकट बिक गए। बारिश के चलते ट्रेन निर्धारित समय से करीब 40 मिनट देरी से रवाना हुई। कार्यक्रम के दौरान मंच पर सांसद भगत सिंह कोश्यारी, राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी, पूर्व सांसद बलराज पासी, पूर्व केंद्रीय मंत्री बची सिंह रावत, विधायक कालढूंगी बंशीधर भगत, विधायक नैनीताल संजीव आर्य आदि मौजूद रहे।   काठगोदाम से दून तक टिकट दर    जघन्य अपराधों के लिए 48 घंटे में उत्तराखंड के हर जिले में बने एसआइटी यह भी पढ़ें वातानुकूलित कुर्सीयान- 555 रुपये   साधारण कुर्सीयान- 165 रुपये    बसों के पहिये जाम होने से ठहरी जिंदगी की 'रफ्तार', कारोबार पर भी असर यह भी पढ़ें साधारण श्रेणीयान- 115 रुपये  नवीन बने नैनी-दून के पहले यात्री    अतिक्रमण हटाने की कार्रवार्इ हुई तेज, नोटिस चस्पा यह भी पढ़ें नैनी-दून जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का सबसे पहला टिकट नैनीताल जिले के धारी ब्लाक निवासी नवीन मल ने बुक कराया। रेलवे के अनुसार वह टिकट बुक कराने वाले पहले यात्री बने। उन्हें एसी कुर्सीयान में सी-वन 49 नंबर की सीट दी गई। ट्रेन में 12 डिब्बे हैं, जिसमें से दो एसएलआर, दो वातानुकूलित, पांच साधारण कुर्सीयान व तीन साधारण श्रेणीयान के कोच हैं

उन्होंने कहा कि चार धाम रेल लाइन से जोड़ने के लिए सर्वे हो रहा है। यह ऐतिहासिक कार्य होगा। इसके अलावा उत्तराखंड की सभी ट्रेनों को इलेक्ट्रिक से जोड़ने के लिए काम किया जा रहा है। इससे उत्तराखंड में पर्यावरण सुरक्षित रहेगा। डीजल से चलने वाली गाड़िया खत्म हो जाएंगी। रेल मंत्री ने कहा, रेलवे आगे भी इसी तरह नई ट्रेनें चलाते रहेगा। उन्होंने कहा कि अभी उत्तराखंड में केवल 7 स्टेशनों में वाई-फाई की सुविधा है। आने वाले समय में सभी स्टेशनों को वाईफाई से जोड़ दिया जाएगा। सासद व पूर्व सीएम भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि इस ट्रेन से पर्यटन को लाभ मिलेगा विकास की गति तेजी से बढ़ेगी। 

राज्य सभा सदस्य अनिल बलूनी ने कहा कि नैनी दून जनशताब्दी एक्सप्रेस के चलने से लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। लोग खुश हैं। अब अब एक ही दिन में देहरादून से हल्द्वानी का सफर तय कर सकते हैं। सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि जब तक कर्ण प्रयाग और बागेश्वर तक ट्रेन नहीं पहुंच जाती। हमें मोदी के हाथ मजबूत करने होंगे। आज ट्रेन के सभी टिकट बिक गए। बारिश के चलते ट्रेन निर्धारित समय से करीब 40 मिनट देरी से रवाना हुई। कार्यक्रम के दौरान मंच पर सांसद भगत सिंह कोश्यारी, राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी, पूर्व सांसद बलराज पासी, पूर्व केंद्रीय मंत्री बची सिंह रावत, विधायक कालढूंगी बंशीधर भगत, विधायक नैनीताल संजीव आर्य आदि मौजूद रहे। 

काठगोदाम से दून तक टिकट दर 

वातानुकूलित कुर्सीयान- 555 रुपये 

साधारण कुर्सीयान- 165 रुपये 

साधारण श्रेणीयान- 115 रुपये

नवीन बने नैनी-दून के पहले यात्री 

नैनी-दून जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का सबसे पहला टिकट नैनीताल जिले के धारी ब्लाक निवासी नवीन मल ने बुक कराया। रेलवे के अनुसार वह टिकट बुक कराने वाले पहले यात्री बने। उन्हें एसी कुर्सीयान में सी-वन 49 नंबर की सीट दी गई। ट्रेन में 12 डिब्बे हैं, जिसमें से दो एसएलआर, दो वातानुकूलित, पांच साधारण कुर्सीयान व तीन साधारण श्रेणीयान के कोच हैं

You May Also Like

English News