देशभर में स्‍वाइन फ्लू के मामलों में इज़ाफा, ऐसे करें बचाव

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस बीमारी की चपेट में शहर के आठ स्कूलों के नौ बच्चे भी आ गए हैं। अधिकारियों ने स्वाइन फ्लू से पीड़ित बच्चों के स्कूलों की जांच कराने का निर्देश दिया है। स्कूलों की जांच के लिए टीमें बनाई गई हैं। लखनऊ जिले के सीएमओ ने डीआईओएस को पत्र लिखकर बच्‍चों की सूची मांगी है।देशभर में स्‍वाइन फ्लू के मामलों में इज़ाफा, ऐसे करें बचावजानिए किस वजह से आपकी स्किन होती है ऑयली

इस बीच, ट्रॉमा सेंटर के क्रिटिकल केयर यूनिट में भर्ती एक महिला की भी सोमवार को मौत हो गई। अब तक राजधानी में स्वाइन लू से चार लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि जिले में यह संख्या आठ हो गई है। अब तक स्वाइन फ्लू के 178 मामले सामने आए हैं। इसमें चार मामले जनपद और चार राजधानी के हैं। 

वहीं दिल्ली में स्वाइन फ्लू के 166 नए मामले दर्ज किए गए हैं। कुल मामलों की बात करें तो 30 जुलाई तक इनके 517 मामले आए हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक चार व्‍यक्तियों को इस घातक वायरस ने अपनी चपेट में लिया है। 

वहीं दिल्‍ली एनसीआर, नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव के सरकारी और निजी अस्‍पतालों में स्‍वाइन फ्लू के नए मामले सामने आए हैं। हालांकि, विशेषज्ञों की मानें तो इस बीमारी को लेकर ज्‍यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। बल्कि इसके लिए बचाव करने की जरूरत है। 

स्‍वाइन फ्लू में क्‍या करें न करें
1 खांसते या छीकतें समय मुंह पर हाथ या रूमाल रखें।
2 खाने से पहले साबुन से हाथ धोयें।
3 मास्क पहन कर ही मरीज के पास जायें।
4 साफ रूमाल में मुंह ढके रहें।
5 खूब पानी पियें व पोषण युक्त भोजन करें।
6 मरीज से कम से कम एक हाथ दूर रहें।
7 भीड़-भाड़ इलाकों में न जाये।
8 साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखें।

You May Also Like

English News