देश की सबसे लंबी एलिवेटेड रोड का उद्घाटन आज करेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपी के गाजियाबाद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज 10.3 किमी लंबी एलिवेटेड रोड का उद्घाटन करेंगे। राजनगर एक्सटेंशन स्थित करहैड़ा पर एलिवेटेड रोड का सीएम उद्घाटन करेंगे। इस दौरान वह करीब 1700 करोड़ रुपये की 19 परियोजनाओं की सौगात देंगे। सीएम जनसभा को भी संबोधित करेंगे। देश की सबसे लंबी एलिवेटेड रोड का उद्घाटन आज करेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

सपा-बसपा गठबंधन पर दलितों व पिछड़ों की नजर…
चार साल 10 महीने में बनकर तैयार हुए 10.3 किलोमीटर लंबे एलिवेटेड रोड का आज उद्घाटन हो जाएगा। सिंगल पिलर एलिवेटेड रोड सज धज कर तैयार है। आज सीएम करीब 15 मिनट रोड का उद्घाटन और भ्रमण करने पर बिताएंगे। इसके बाद रोड को आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा।

इसके शुरू होने के बाद दिल्ली जाना आसान हो जाएगा। साथ ही आधे शहर को जाम से निजात मिल सकेगी। सीएम जिले को विभिन्न योजनाओं की सौगात भी देंगे। 

अपने तीन घंटे से अधिक के कार्यक्रम में सीएम एलिवेटेड समेत 1791.63 करोड़ रुपये की 19 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे। करहैड़ा में एलिवेटेड रोड का उद्घाटन करने के बाद कार से कविनगर स्थित रामलीला मैदान पहुंचेंगे। 

जहां जीडीए, बेसिक शिक्षा, बिजली, लोक निर्माण व अन्य विभागों से जुड़ी योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे। इसके बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। कुल मिलाकर सीएम सुबह 10:05 बजे हिंडन एयरबेस पहुंचेंगे और दोपहर 1:10 बजे वापस एयरबेस आकर 1.15 बजे राजकीय विमान से लखनऊ रवाना हो जाएंगे। 

इन योजनाओं का करेंगे शिलान्यास 
मधुबन-बापूधाम में 856 ईडीडब्ल्यूएस भवन –  131 करोड़़ रुपये 
एकीकृत ऊर्जा विकास योजना –  112.24 करोड़ 
अक्षय पात्रा द्वारा मिड-डे- मिल हेतु केंद्रीय किचन का निर्माण – 16.90 करोड़  
ग्राम सिरोरा सलेमपुर में हिंडन नदी पर पुल – 16.50 करोड़  

इन योजना का लोकार्पण 
यूपी गेट से राजनगर एक्सटेंशन तक एलिवेटेड रोड – 1147.60 करोड़ 
पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगमन की सौभाग्य योजना – 149.73 करोड़ 
जीटी रोड से बंधा रोड तक नाले का निर्माण एवं सुदृढ़ीकरण – 70.60 करोड़ 
350 प्राइमरी व जूनियर हाईस्कूलों का उच्चीकरण – 20 करोड़ रुपया  

छह लेन एलिवेटेड रोड बदल देगी शहर की तस्वीर 

करीब 227 सिंगल पिलर पर तैयार हुई देश की पहली 10.3 किलोमीटर लंबी एलिवेटेड रोड को शहर के विकास के लिए मील का पत्थर माना जा रहा है। इससे दोतरफा फायदा होने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

एक जीटी रोड, मोहननगर, मेरठ तिराहा व मेरठ रोड का जाम खत्म होगा। साथ ही दिल्ली जाने में महज 10 से 15 मिनट का समय लगेगा, अभी आधा से एक घंटा तक लगता है। दूसरे जाम से निजात मिलेगी।

माना जा रहा है कि बेहतर कनेक्टिविटी होने पर लोग राजनगर एक्सटेंशन समेत अन्य हिस्सों में रहना पसंद करेंगे, जिससे प्रॉपर्टी बाजार में उछाल आने की संभावना है। उधर, एलिवेटेड रोड का प्रयोग सफल रहता है, तो उससे शहर के बाकी अहम हिस्सों में भी एलिवेटेड रोड बनाने का रास्ता साफ हो सकेगा।

You May Also Like

English News