पीएम मोदी ने लिया बड़ा फैसला, 50 दिन के अंदर ही खत्म होगी नोटों की किल्लत

नई दिल्ली। देश में नोटबंदी के बाद से अफरा-तफरी का माहौल है। पैसों की किल्लत से झूंज रहे लोग बैंकों में लगी लम्बी-लम्बी लाइनों से परेशान हो चुके हैं। लेकिन अब केंद्र सरकार ने लोगों को जल्द से जल्द राहत पहुंचाने के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। नोटबंदी के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), आयकर विभाग (इनकम टैक्स डिपार्टमेंट), पुलिस आदि विभिन्न एजेंसियों ने जो करीब 100 करोड़ रुपये कीमत के नए नोट जब्त किए, उनका क्या होगा? ध्यान रहे, जब्त नोटों में ज्यादातर 2,000 रुपये के हैं।

देश में नोटबंदी के बाद से अफरा-तफरी का माहौल

बड़ी खबर: चीन ने भारत पर तान दी परमाणु मिसाइल, बाॅर्डर पर सेना तैनात

ईडी ने अपने क्षेत्रीय इकाइयों को निर्देश दिया है कि वो विभिन्न शहरों में खुलवाए अपने खातों में इन नए नोटों समेत सारे पैसे जमा कराएं ताकि इन्हें जल्द-से-जल्द सर्कुलेशन में लाया जा सके। ईडी के डायरेक्टर कर्नाल सिंह ने सोमवार को कहा कि उन्होंने एक सर्कुलर जारी किया था कि जब्त पैसे और दूसरी चीजें स्ट्रॉन्ग रूम्स में रखे जाएं। उन्होंने कहा कि हम ये पैसे अपने बैंक अकाउंट्स में जमा करते रहे हैं ताकि ये पैसे सर्कुलेशन में आ जाएं और आम लोगों को असुविधा नहीं हो।

बड़ी खबर: हो गया फैसला, आपको दोगुना पैसा करके लौटाएगी मोदी सरकार

सरकार ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को भी जब्त पैसे को बैंकों में जमा कराने को कहा है। इससे पहले, एजेंसियां कैश सहित तमाम जब्त वस्तुएं स्ट्रॉन्ग रूम्स में रखी हुई थीं जब तक कि केस की औपचारिकताएं पूरी नहीं हो जाएं। एक सीनियर इनकम टैक्स ऑफिसर ने बताया कि उसके बाद जब्त पैसे देश की संचित निधि में जमा करा दिए गए।

 

You May Also Like

English News