धुंध का कहर: डेढ़ घंटे लाश को रौंदती रही गाड़ियां, लेकिन किसी को पता नहीं लगा

धुंध का कहर किस तरह लोगों की जान ले रहा है इससे जुड़ा एक दिलदहला देने वाला मामला अम्बाला-चंडीगढ़ हाईवे पर देखने मिला. यहां एक युवक के शव के ऊपर से डेढ़ घंटे तक गाड़ियां गुजरती रहीं, लेकिन किसी को पता नहीं लगा.धुंध का कहर: डेढ़ घंटे लाश को रौंदती रही गाड़ियां, लेकिन किसी को पता नहीं लगाअभी-अभी: प्रदेश के लोगों को लगा बड़ा झटका, इलाज के लिए मिलने वाली ये सरकारी सुविधा हुई बंद

मिली जानकारी के अनुसार, अम्बाला-चंडीगढ़ हाईवे पर स्थित चमन वाटिका स्कूल के पास एक अज्ञात राहगीर को किसी वाहन ने टक्कर मार दी. इससे राहगीर सड़क पर गिर पड़ा और उसके शव के ऊपर से करीब डेढ़ घंटे तक तेज रफ़्तार गाड़ियां एक के बाद एक गुजरती रही.

धुंध होने के कारण ना तो सड़क पर चल रही गाड़ियों को शव दिखाई दिया और ना ही आसपास मौजूद लोगों को इसकी खबर लगी. लगातार गाड़ियां गुजरने के कारण केवल शव के लोथड़े बचे थे.

जैसे ही कुछ लोगों की नजर सड़क पर पड़े पैरों पर गई तो उन्होंने कंट्रोल रूम में इसकी सूचना दी. पुलिस जब मौके पर पहुंची तो सड़क पर केवल शव के लोथड़े और पैर पड़े मिले. 

जिस कारण शव की शिनाख्त नहीं हो पाई. पुलिस ने लोथड़ों को प्लास्टिक के डिब्बों में रख पोस्टमार्टम कर मोर्चरी भेजा. पुलिस को सड़क पर कुछ कपड़े भी मिले.

पुलिस कपड़ों से अंदाजा लगा रही है कि शव पुरुष का है. इस बारे में एएसआई नरेश कुमार ने बताया कि, ” शव को देखकर लग रहा है कि इसके ऊपर से 100 से 150 गाड़ियां गुजरी हैं. शव के आसपास मिले कोट और जूतों से लग रहा है कि शायद यह शव किसी सैन्यकर्मी का है. डीएनए होने पर ही शव की शिनाख्त हो पाएगी.

बता दें कि बीते दो दिनों से हाईवे पर धुंध के कारण कई हादसे हुए हैं. यमुना एक्सप्रेस वे और पलवल नेशनल हाईवे पर दो दर्जन वाहन आपस में भिड़ गए. वहीं, बठिंडा में सड़क हादसे में 10 बच्चों की मौत हो गई थी.

You May Also Like

English News