धोनी, श्रीलंका, वानखेड़े स्टेडियम और वही विनिंग शॉट…

भारतीय टीम ने श्रीलंका को मुंबई टी-20 में धूल चटा सीरीज़ पर कब्जा जमा लिया है. तीन मैचों की सीरीज़ को भारत ने 3-0 से जीता. तीनों ही टी-20 मैच में भारतीय टीम के आगे श्रीलंका की टीम कहीं भी टिक नहीं पाई. रविवार को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने चौका लगाकर विजय दिलवाई. धोनी के इस विजयी शॉट ने 6 साल पुरानी याद ताजा कर दी.धोनी, श्रीलंका, वानखेड़े स्टेडियम और वही विनिंग शॉट...अभी-अभी: चीफ सेलेक्टर ने बताया- क्यों है वर्ल्ड कप में धोनी की जगह पक्की?

धोनी, वानखेड़े और फिनिशिंग शॉट…

मैच को अपने ही अंदाज़ में बड़ा हिट लगाकर खत्म करना धोनी का पुराना अंदाज़ रहा है. इससे पहले भी वो चौका या छक्का लगाकर भारतीय टीम को जीत दिलाते आए हैं. और बात जब वानखेड़े स्टेडियम की हो तो आखिर कौन ही भूल सकता है.  

2011 विश्वकप फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ ही कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने विजयी छक्का लगाकर भारतीय टीम को जीत दिलवाई थी. और भारत के 28 साल बाद वर्ल्ड कप जीतने के सपने को पूरा किया था. धोनी ने उस मैच में शानदार पारी खेलते हुए मात्र 79 गेंदों में नाबाद 91 रन बनाए थे. जिस दौरान धोनी ने विजयी छक्का जड़ा था, युवराज सिंह सामने नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े थे. शॉट लगते ही युवराज दौड़े और धोनी को अपने कंधों पर उठा लिया.

आपको बता दें कि इस मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका की टीम ने भारत को जीत के लिए 136 रनों का लक्ष्य दिया था. जवाब में आसान से टारगेट का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने 19.2 ओवर में ही 5 विकेट गंवा कर 139 रन बना लिए और यह मैच 5 विकेट से जीत लिया.

टीम इंडिया की ओर से मनीष पांडे ने सबसे ज्यादा 32 रन बनाए जबकि श्रेयस अय्यर ने 30 रनों की पारी खेली. इसके अलावा अंत में एमएस धोनी ने 16 रन तो वहीं दिनेश कार्तिक ने 18 रन बनाकर भारत को जीत दिला दी. जयदेव उनादकट को ‘मैन ऑफ द मैच’ और ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का अवॉर्ड दिया गया.

loading...

You May Also Like

English News