नंदी के ‘रावण’ और ‘शूर्पणखा’ वाले बयान पर डिप्टी CM ने किया बचाव, कहा- सुनने के बाद मांगेंगे जवाब

यूपी के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी द्वारा मुलायम सिंह यादव को रावण और मायावती को शूर्पणखा कहे जाने के बाद अब डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने इस पर प्रतिक्रिया दी है। डॉ. दिनेश शर्मा ने मंगलवार को कहा कि राजनीति में शब्दों पर संयम बहुत जरूर है। किसी को भी ऐसे शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए, जिससे किसी को कष्ट पहुंचे।नंदी के 'रावण' और 'शूर्पणखा' वाले बयान पर डिप्टी CM ने किया बचाव, कहा- सुनने के बाद मांगेंगे जवाब

 उन्होंने कहा कि अगर किसी के ऐसे भाव हैं, जिससे किसी को कष्ट पहुंचता है तो भारतीय जनता पार्टी ने इसे कभी नहीं स्वीकारा। न हमारे प्रधानमंत्री ने और न ही मुख्यमंत्री ने।

डिप्टी सीएम ने कहा कि मैंने अभी नंद गोपाल जी के बयान को नहीं सुना है। उसे सुनने के बाद उनका पक्ष जाना जाएगा कि उन्होंने किस संदर्भ में क्या कहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा की स्पष्ट नीति है शब्दों का संयम। राजनेताओं या फिर अन्य के भी संदर्भ में ऐसे शब्दों का प्रयोग न हो जिससे किसी को ठेस पहुंचे।

बता दें कि रविवार को एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए यूपी के नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल नंदी ने मुलायम सिंह यादव को ‘कलयुग का रावण’ और बीएसपी सुप्रीमो मायावती को उनकी बहन ‘शूर्पणखा’ कहा था। यही नहीं नंदी ने शिवपाल यादव को ‘कुंभकर्ण’ और एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव को ‘मेघनाद’ की संज्ञा दे दी थी। 

You May Also Like

English News