नए साल में एक और बुरी खबर, बढ़ सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

नई दिल्ली। नए साल (2017) में आप पेट्रोल और डीजल की खरीद में ज्यादा कीमत चुकाने के तैयारी कर लीजिए। जल्द ही इनकी कीमतों में इजाफा हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ओपेक के दिग्गज देश सऊदी अरब और इराक जो कि पूरी दुनिया को 40 फीसदी तेल की आपूर्ति करते हैं ने बीते गुरुवार को संकेत दिए हैं कि वो पूरी दुनिया को मिल रहे सस्ते तेल (पेट्रोल और डीजल) की सुविधा को अब खत्म करने की दिशा में जल्द कोई बड़ा कदम उठा सकते हैं।

नए साल में एक और बुरी खबर, बढ़ सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

सऊदी अरब जो कि दुनिया का सबसे बड़ा तेल निर्यातक है उसने दो साल पहले डिस्काउंट के साथ सस्ता तेल बेचा था, लेकिन अब उसने एशिया और अमेरिका पहुंचने वाले अलग अलग ग्रेड के तेल पर प्रीमियम बढ़ा दिया है। साथ ही उसने खरीदारों से साथ फरवरी से आपूर्ति में 3 से 7 तक की कटौती को लेकर भी बातचीत शुरू कर दी है।

बड़ी खबर: लोगों ने किया प्रधानमंत्री मोदी का विरोध, दिखाए काले झंडे

वहीं दूसरी तरफ दुनिया के दूसरे सबसे बड़े तेल निर्यातक देश इराक ने, जो कि भारत के टॉप दो निर्यातकों में से एक है ने उत्पादन में कटौती को लेकर शुरुआत कर दी है।

बड़ी खबर: आज शाम 7:30 बजे नहीं होगा पीएम का संबोधन

ये दोनों ही घटनाक्रम यह बताते हैं कि नवंबर में हुए ओपेक देशों और अन्य तेल निर्यातक देशों के साथ साथ रूस के बीच हुए एक करार की शर्तों का पालन किया जा रहा है। यह उस आशंका को खारिज करता है जिसमें यह कहा जा रहा था कि यह करार फेल हो गया है।

 

You May Also Like

English News