नवाज के बचाव में उतरी पार्टी, कहा- गलत ढंग से पेश किया गया बयान

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मुंबई हमले से जुड़े बयान पर खलबली मच गई है. भारतीय मीडिया में नवाज शरीफ का बयान चलने के बाद पाकिस्तानी सेना ने चर्चा के लिए उच्चस्तरीय बैठक तक बुला ली, तो अब नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) ने भी इस मसले पर सफाई दी है.पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मुंबई हमले से जुड़े बयान पर खलबली मच गई है. भारतीय मीडिया में नवाज शरीफ का बयान चलने के बाद पाकिस्तानी सेना ने चर्चा के लिए उच्चस्तरीय बैठक तक बुला ली, तो अब नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) ने भी इस मसले पर सफाई दी है.  नवाज के बचाव में पार्टी ने बाकायदा बयान जारी किया है. इस बयान में कहा गया है कि मुंबई 26/11 हमले से जुड़े नवाज शरीफ के बयान पर जो दावे किए जा रहे हैं, वह उसे खारिज करती है. इतना ही नहीं, पार्टी ने दावा किया कि नवाज शरीफ के बयान को भारतीय मीडिया द्वारा गलत ढंग से पेश किया गया है.  View image on Twitter View image on Twitter  Maryam Nawaz Sharif ✔ @MaryamNSharif  PMLN Spokesperson:  8:33 PM - May 13, 2018 2,398 2,458 people are talking about this Twitter Ads info and privacy शरीफ ने दिया था ये बयान नवाज शरीफ ने पाकिस्तानी अखबार को दिए एक इंटरव्यू में कबूल किया था कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं. उन्होंने 'सरकार से इतर तत्वों' के सीमा पार करने और लोगों की हत्या करने देने की पाकिस्तान की नीति पर सवाल उठाए थे. शरीफ ने कहा था कि क्या पाकिस्तान को 'सरकार इतर तत्वों' को सीमा पार करने और मुंबई में लोगों की 'हत्या करने' की अनुमति देनी चाहिए.  पाकिस्तानी सेना भी नाखुश  नवाज शरीफ के बयान को लेकर पाकिस्तान में विवाद हो गया है. वहां की सेना ने भी उनके इस बयान को गंभीरता से लिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने टि्वटर पर कहा कि प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी को उच्चाधिकार प्राप्त राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ( एनएससी ) की बैठक बुलाने का सुझाव दिया गया. एनएससी शीर्ष असैन्य तथा सैन्य नेतृत्व का मंच है जो महत्वपूर्ण राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा करती है.

नवाज के बचाव में पार्टी ने बाकायदा बयान जारी किया है. इस बयान में कहा गया है कि मुंबई 26/11 हमले से जुड़े नवाज शरीफ के बयान पर जो दावे किए जा रहे हैं, वह उसे खारिज करती है. इतना ही नहीं, पार्टी ने दावा किया कि नवाज शरीफ के बयान को भारतीय मीडिया द्वारा गलत ढंग से पेश किया गया है.

     

एक इंटरव्यू में कबूल किया था कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन सक्रिय हैं. उन्होंने ‘सरकार से इतर तत्वों’ के सीमा पार करने और लोगों की हत्या करने देने की पाकिस्तान की नीति पर सवाल उठाए थे. शरीफ ने कहा था कि क्या पाकिस्तान को ‘सरकार इतर तत्वों’ को सीमा पार करने और मुंबई में लोगों की ‘हत्या करने’ की अनुमति देनी चाहिए.

नवाज शरीफ के बयान को लेकर पाकिस्तान में विवाद हो गया है. वहां की सेना ने भी उनके इस बयान को गंभीरता से लिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने टि्वटर पर कहा कि प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी को उच्चाधिकार प्राप्त राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ( एनएससी ) की बैठक बुलाने का सुझाव दिया गया. एनएससी शीर्ष असैन्य तथा सैन्य नेतृत्व का मंच है जो महत्वपूर्ण राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा करती है.

You May Also Like

English News