नवाज शरीफ ने सेना और न्यायपालिका को बताया दुश्मन, कहा- मैं डरने वाला नहीं

पाकिस्तान से बेदखल किए गए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने रविवार को कहा कि पाकिस्तान की न्याय व्यवस्था और सेना उनके कितने ही खिलाफ क्यों न हो जाएं लेकिन वह डरने वाले नहीं हैं। पंजाब के सीखूपुरा जिले में एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए 67 साल के नवाज ने कहा कि न्याय व्यवस्था और मिलिट्री उनकी दुश्मन बन गई है और उनसे बदला लेना चाहती है लेकिन वो हर साजिश का सामना करेंगे।  नवाज ने अपने समर्थकों से कहा कि वह उन्हें मिलिट्री और न्याय व्यवस्था से जीतने के लिए अपना समर्थन दें। चूंकि ये दोनों ही पिछले 70 सालों से देश का नाश कर रहे हैं।नवाज शरीफ ने सेना और न्यायपालिका को बताया दुश्मन, कहा- मैं डरने वाला नहीं

Third Marriage: पाक के पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने रची तीसरी शादी!

आपको बता दें कि शरीफ और उनका परिवार लंदन में अपनी प्रॉपर्टी के कारण परेशानियों का सामना कर रहा है। शरीफ ने जुलाई में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें पनामा पेपर्स मामले में अयोग्य घोषित कर दिया था। 

शरीफ ने कहा कि यह सबसे क्रूर सिस्टम है जिसका वह पिछले 70 सालों से सामना करते आ रहे हैं। लेकिन अब वक्त आ गया है कि इस सिस्टम को बदल दिया जाए। शरीफ ने कहा कि उन्हें जेल हुई क्योंकि उन्होंने परमाणु परीक्षण किये थे, बस यही उनका अपराध था। उन्हें बेदखल इसलिए किया गया क्योंकि वो देश के लिए CPEC के जरिये 56 बिलियन डॉलर का इनवेस्टमेंट लाए। 

You May Also Like

English News