नाम-चीन हस्ती की आम जिंदगी पर सवाल क्यों ?

सवाल है -क्या राहुल गाँधी या देश की कोई अन्य नाम-चीन हस्ती आम आदमी की तरह जिंदगी नहीं जी सकता? क्या वे सिर्फ सार्वजानिक जीवन में ही रहे या सार्वजानिक जीवन से जुडी मर्यादाओ को पालते हुए अपनी ख़ुशी या निजी जीवन का आनंद ना उठाये. भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी की काम करने की क्षमता पर तंज़ कसते हुए कई ट्वीट्स किए. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस ने ना केवल गुजरात चुनाव हारा, बल्कि जहां पार्टी की सरकार थी, हिमाचल प्रदेश में, वहां भी हार गई, लेकिन राहुल गांधी इस बात का आंकलन ना करके फ़िल्म देखने निकल गए.नाम-चीन हस्ती की आम जिंदगी पर सवाल क्यों ?

संसद में हंगामे के चलते नहीं बोल पाए तेंदुलकर, जया ने कहा- ये शर्मनाक

एक के बाद एक ट्वीट कर अमित मालवीय ने राहुल से पूछा कि, ‘अगर राहुल ने सिनेमा छोड़ गुजरात में ही पार्टी के प्रदर्शन का आंकलन किया होता, तो उन्हें पता चल जाता कि सौराष्ट्र जहां वह सबसे ज़्यादा सीटें जीते हैं, वहां भी बीजेपी को सबसे ज़्यादा वोट मिले हैं.

ख़बरों के मुताबिक़ गुज़श्ता 18 दिसंबर की शाम को गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव नतीजे आने के बाद राहुल गांधी अपने दोस्तों के साथ हॉलीवुड फ़िल्म ‘स्टार वॉर’ देखने सिनेमा हॉल चले गए. लेकिन कुछ वक़्त बाद ही वे फ़िल्म बीच में छोड़कर वापस आ गए. कुछ लोगों ने सिनेमा हॊल में देख लिया और फिर क्या था, भारतीय जनता पार्टी ने इसे एक बड़ा सियासी मुद्दा बना दिया.

 

You May Also Like

English News