नीतीश कुमार का बड़ा बयान- मैं नहीं हूं 2019 में पीएम पद का दावेदार

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के सामने मजबूत महागठबंधन बनाने की चर्चाओं के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा बयान दिया है. नीतीश कुमार ने साफ कर दिया है कि वो प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नहीं हैं.

ये भी पढ़े: 18 साल के बाद अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में फिर भारत व पाक होंगे सामने!

दरअसल सीएम नीतीश कुमार पटना में एक कार्यक्रम में थे. यहां जब पत्रकारों ने उनसे ये सवाल किया कि क्या वो 2019 का चेहरा होंगे तो उन्होंने इस पर साफ शब्दों में जवाब दिया. नीतीश कुमार ने ऐसी किसी संभावना से इनकार करते हुए बोला कि वो आगामी लोकसभा चुनाव में पीएम पद के उम्मीदवार नहीं होंगे.

‘मैं इस काबिल नहीं’

नीतीश कुमार ने सिर्फ पीएम पद की दावेदारी की संभावनाओं को ही नहीं नकारा बल्कि उन्होंने ये भी कहा कि वो खुद को इस काबिल नहीं मानते. हालांकि नीतीश ने ये जरूर कहा कि जो लोग ऐसा सोचते हैं उनका धन्यवाद.

हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने चारा घोटाला केस में लालू यादव के आपराधिक साजिश का केस चलाने का आदेश दिया था. इस आदेश के बाद बिहार बीजेपी के नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को समर्थन देने का खुला ऑफर दिया था. वहीं दूसरी तरफ जेडीयू और आरजेडी नेताओं के बीच खींचतान की खबरें भी बिहार में गठबंधन सरकार बनने के बाद से ही आती रही हैं. ऐसे में चर्चा इस बात की भी होने लगी है कि कहीं नीतीश कुमार घर वापसी कर बीजेपी का दामन फिर से न थाम लें.

बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत से केंद्र में सरकार बनाने के बाद से ही राज्य विधानसभआ चुनावों में भी बीजेपी ने अपना परचम लहराया है. यूपी में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद ये सवाल और मजबूत हो गया है कि पीएम नरेंद्र मोदी का मुकाबला करना इतना आसान नहीं होगा.

विपक्षी खेमों से ऐसी आवाजें उठती रही हैं कि 2019 में बीजेपी को शिकस्त देने के लिए विपक्षी दलों को एकजुट होना पड़ेगा. राजनीतिक विश्लेषक भी नीतीश कुमार को पीएम पद का योग्य उम्मीदवार मानते हैं. ऐसे में नीतीश का ये बयान कई अटकलें पैदा करने वाला है.

 

 

You May Also Like

English News