नीलम रत्न धारण करने से पहले जरूर ध्‍यान रखें ये 8 बातें…

अगर किसी को शनि देव की कृपा मिल जाए तो वो व्यक्ति देखते ही देखते राजा बन जाता है। वहीं शनि देव की दृष्टि पड़ते राजा भी रंक बन जाता है। इसी वजह से शनि देव को प्रसन्न करने और उनके प्रभाव से बचने के लिए ज्यादातर लोग नीलम रत्न को धारण करते हैं। माना जाता है कि नीलम जब क‌िसी व्यक्ति‌ को सकारात्मक परिणाम देता है तो कुछ ही द‌िनों में सफलता की सीढ़ियां चढ़ने लग जाता है। इसल‌िए नीलम रत्न बहुत ही जांच परख कर धारण क‌िया जाता है। अगर आप भी इस रत्न को धारण करते हैं तो इन 8 बातों को जरूर ध्‍यान रखें।नीलम रत्न धारण करने से पहले जरूर ध्‍यान रखें ये 8 बातें...राशिफलः 10 नवंबर 2017 दिन शुक्रवार, आज इन राशि वालों को मिल सकती है ये बड़ी खुशखबरी

नीलम रत्न का प्रभाव बहुत ही तेजी से द‌िखता है। अगर यह रत्न आपके ल‌िए अनुकूल नही हैं यानी आपको सकारात्मक फल देने वाला नहीं है तो आंखों में तकलीफ महसूस होने लगती है।

नीलम के प्रत‌िकूल होने पर दुर्घटना में चोट लग सकती है और शारिरीक कष्ट हो सकता है।

इसके शुभ नहीं होने पर धारण करने वाले को तुरंत आर्थ‌िक नुकसान का सामना करना पड़ता है।
नीलम अगर अनुकूल नहीं है तो बुरे और डरावने सपने आएंगे।
नीलम ज‌िनके ल‌िए अनुकूल और शुभ होता है उन्हें धारण करते ही शुभ फल देने लगता है। सबसे पहले तो स्वास्‍थ्य संबंधीं कोई परेशानी चल रही है तो उसमें राहत महसूस होने लगती है।
शुभ होने पर धारण करने वाले को आर्थ‌िक लाभ म‌िलता है। नौकरी और व्यवसाय में उन्नत‌ि का संकेत भी नीलम तुरंत देता है।
 

नीलम धारण करने के बाद आपके साथ कुछ अशुभ घटना नहीं हो तब भी यह समझना चाह‌िए क‌ि आपके ल‌िए यह रत्न शुभ है।

You May Also Like

English News