नोटबंदी के 100 दिन बाद सामने आई रिपोर्ट, मोदी की बढ़त की वजह जानकर चौंक जाएगा U.P

नोटबंदी की घोषणा हुए 100 दिन से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। पीएम मोदी ने कैश की समस्या पर कहा था कि 50 दिन में समस्या दूर हो जाएगी। लेकिन कैश को की समस्या बरकरार है। ज्यादातर ATM मशीनों का हाल खराब है। नोटबंदी के बाद रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें चौंकाने वाला पहलू सामने आया है। इसमें चुनाव वाले राज्यों को ‘तरजीह’ दी जा रही है।नोटबंदी के 100 दिन बाद सामने आई रिपोर्ट, मोदी की बढ़त की वजह जानकर चौंक जाएगा U.P

विधानसभा चुनावः कोई फेरों के पहले तो कोई विदाई के बाद देने पहुंची वोट

इंडिया डुटे के एक सर्वे में सामने आया है कि करीब 60 फीसदी एटीएम काम ही नहीं कर रहे है। कहीं-कहीं पैसा मिल रहा है तो कहीं-कहीं एटीएम का शटर गिरा हुआ है।

नोटबंदी के बाद रिपोर्ट में दिखा सच!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का ऐलान करते वक्त कहा था कि 50 दिन में समस्या दूर हो जाएगी। लेकिन हालात अभी भी यही है कि ज्यादातर एटीएम सिर्फ लोहे का बॉक्स बनकर खड़े हैं।

इस सर्वे में देशभर के 114 एटीएम मशीनों का किया गया है। सर्वे में पाया गया है कि 60 फीसदी एटीएम से कैश नहीं निकल रहा था जबकि 39 फीसदी एटीएम ही काम कर रहे थे।

जहां चुनाव, वहां कैश

 सर्वे में एक चौंकाने वाला पहलू सामने आया कि जिन जगहों पर चुनाव होने हैं वहां कैश आसानी से मिल रहा है। यूपी चुनाव को देखते हुए पूर्वी यूपी में कैश की समस्या लगभग खत्म हो चुकी है। वहीं महाराष्ट्र में हो रहे बीएमसी के चुनाव को देखते हुए वहां पर कैश मिल रहा है। आपको बता दें कि यूपी में विधानसभा चुनाव और महाराष्ट्र में नगर निकाय और जिला पंचायत के चुनाव हो रहे हैं।

राज्यों में कैश की स्थिति

रिपोर्ट के अनुसार पंजाब के 84 फीसदी एटीएम मशीनों में कैश नहीं मिल रहा है। अमृतसर, पठानकोट और चंडीगढ़ के 16 एटीएम में से सिर्फ 6 एटीएम से पैसे निकल रहे हैं। गुजरात के अहमदाबाद में 54 फीसदी एटीएम से पैसे निकल रहे हैं।

लखनऊ, इलाहाबाद और बनारस की करीब 84.6 फीसदी एटीएम से कैश निकल रहे हैं। वहीं मुंबई में 87.5 फीसदी एटीएम में कैश है। सबसे बुरा हाल दिल्ली एनसीआर का है। यहां के ज्यादातर एटीएम खाली पड़े हैं।

 
loading...

You May Also Like

English News