पंजाब: चीमा ने खोला खैहरा के खिलाफ मोर्चा

संगरूर। नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद पहली आम आदमी पार्टी के विधानसभा क्षेत्र दिड़बा के विधायक एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा ने पार्टी के विधायक सुखपाल खैहरा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। खैहरा की जगह पर नेता प्रतिपक्ष बने चीमा ने दो टूक शब्दों में कहा कि आप की महिला विधायकों के अपमान पर पार्टी के बागी नेता सुखपाल खैहरा व उनके साथियों को माफी मांगनी होगी, वरना कोर्ट जाकर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने से भी गुरेज नहीं किया जाएगा।

स्थानीय रेस्ट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस में चीमा ने कहा कि जिस तरह की बोली उनके लिए सुखपाल सिंह खैहरा उपयोग कर रहे हैं, वह समूचे दलित भाईचारे का निरादर करने वाली है और  उनकी सोच में राजशाही झलकती है। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र जगराओं की विधायक नेता सरबजीत कौर माणूके, विधायक बलजिंदर कौर व विधायक रूबी के खिलाफ सोशल मीडिया पर जो एतराज योग्य तस्वीरें डालकर उन पर निंदनीय शब्दावली उपयोग की गई है, वह खैहरा के कहने पर उनके एक समर्थक ने अपलोड की है। जो भी गलत प्रचार हो रहा है, वह सब सुखपाल खैहरा के इशारे पर ही हो रहा है। खैहरा व साथियों के इस व्यवहार के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि खैहरा द्वारा यह कहना कि इंकलाब-जिंदाबाद का नारा पंजाब की धरती पर लगाना बंद कर देना चाहिए। यह अस्पष्ट रूप में शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव व करतार सिंह सराभा सहित हजारों शहीदों का निरादर है। इसके बदले उन्हें पंजाब के लेागों से माफी मांगनी चाहिए।

नाराज पदाधिकारियों व वर्करों को मनाएंगे

चीमा ने कहा कि जो जिला प्रधान अन्य पदाधिकारी व विधायक सुखपाल सिंह खैहरा के गुमराह होकर बठिंडा रैली में गए हैं या जिन्होंने इस्तीफे दिए हैं उन्हें वापस लाया जाएगा। उन्होंने अभी कुछ विधायक गुमराह हो रहे हैं, जिनसे बातचीत चल रही है और वह जल्द ही पार्टी की विचारधारा का हिस्सा होंगे।

कैप्टन सरकार को वादे याद दिलाएगी आप

चीमा ने कहा कि विधानसभा सत्र से लेकर गांव-गांव तक अभियान चलाकर कांग्र्रेस सरकार की तरफ से किए वादे सरकार को याद दिलाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिन वादों के सहारे कांग्रेस सत्ता में आई है, वह वादे सरकार भूल चुकी है और आम आदमी पार्टी विपक्ष में अपनी पूरी जिम्मेदारी निभाते हुए सरकार को हर मोर्चे पर उसके वादे याद दिलाएगी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी बिल्कुल एकजुट है।

आप को तोडऩे की कोशिश में बैंस ब्रदर्स

चीमा ने कहा कि बैंस ब्रदर्स आम आदमी पार्टी को तोड़ने के लिए भाजपा का सहयोग ले रहे हैं, जिसे किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बठिंडा कन्वेंशन में पहुंचने वाली भीड़ की जांच करवाकर देख लें, वहां किस किस पार्टी ने अपने वर्कर पहुंचे थे।

खैहरा दलित विरोधी : सरबजीत

कांफ्रेंस में आप पार्टी की सदन की उपनेता सरबजीत कौर माणूके ने कहा कि उन्होंने दलित होने के नाते विधानसभा में एक वर्ष पांच माह खैहरा का साथ दिया, लेकिन उन्होंने एक दलित परिवार से उठे हरपाल सिंह चीमा का एक दिन भी साथ नहीं दिया। इससे पता चलता है कि वह रजवाड़े हैं व दलित नेताओं को अपने से बड़े पद पर देखना नहीं चाहते।

आप की महिला विंग ने खैहरा के खिलाफ मैदान में

वहीं, आम आदमी पार्टी के महिला विंग की आब्जर्वर और विधायक प्रो. बलजिन्दर कौर, सूबा प्रधान राज लाली गिल और सह-प्रधान जीवन जोत कौर ने चंडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेंस करके संयुक्त रूप से कहा कि  आप की महिला विधायकों के बारे में सोशल मीडिया पर सुखपाल सिंह खैहरा के करीबी नेताओं द्वारा की गई अपमानजनक टिप्पणियों को लेकर खैहरा माफी मांगे। इन्होंने कहा कि अगर दो दिन में खैहरा ने माफी नहीं मांगी तो वह आगे की कारवाई करेंगी।

बता दें खैहरा के समर्थकों ने विधान सभा में सदन में की उप नेता सरबजीत कौर, पार्टी के महिला विंग की आब्जर्वर और विधायक प्रो. बलजिन्दर कौर, बठिंडा से विधायक रुपिन्दर कौर रूबी के बारे में फेसबुक और सोशल मीडिया पर घटिया स्तर की मुहिम चलाई हुई। इसके तहत खैहरा समर्थक आप महिला विधायक की अपमानजनक फोटो सोशल मीडिया अपलोड की जा रही हैं और भद्दी शब्दावली इस्तेमाल की जा रही है, जो निंदनीय है।

You May Also Like

English News