पति को मारकर बेडरूम में दफनाया, कब्र पर एक सप्‍ताह तक सोती रही पत्‍नी…ऐसे खुली पोल

पत्‍नी ने पति की हत्‍या कर दी। फिर शव को बेड रूम में ही दफना दिया और उसपर खाट बिछा आराम से एक सप्‍ताह तक सोती रही। लेकिन, दुर्गंध ने पोल खोल दी। दिल दहला देने वाली यह घटना बिहार के गया जिला अंतर्गत बाराचट्टी के हाहेसाड़ी गांव में हुई।

हत्‍या कर शव को दफनाया

जानकारी के अनुसार एक सप्‍ताह पहले गावं की जमुनी देवी ने अपने पति बासु तुरी की हत्या कर शव को कमरे में ही दफना दिया और कब्र पर ही खाट बिछाकर आराम से सोती रही। लेकिन, पांच-छह दिन बीतने के बाद कमरा शव की सड़ांध से भर गया। दुर्गंध के कारण पकड़े जाने के डर से वह सरपंच से मदद मांगले जा पहुंची।

सरपंच ने पुलिस को बुलाया

सरचंप को उसने बताया‍ कि उसने पति के खाने में जहर देकर उसकी हत्या कर दी और घर में ही गड्ढा कर शव को दफना दिया। उसने मामले को दबाने के लिए रुपये की पेशकश की, परंतु सरपंच ने पुलिस को सूचना दे दी।

इसके बार पुलिस ने आरोपित पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार ममला प्रथमदृष्ट्या गला दबाकर व गुप्तांग पर प्रहार कर हत्या किए जाने का मामला प्रतीत हो रहा है।

सरपंच देवंती देवी ने बताया कि सोमवार को जमुनी ने उसके घर पर आकर घटना की जानकारी दी। उसने कहा कि चुपचाप शव को निकलवाकर जलाने की व्यवस्था कर दें। वे उन्हें पैसे दे देगी। दूसरी जगहों पर भी पैसे देना होगा तो तैयार है। इसपर सरपंच ने उसे बहाने से बिठाए रखा और पुलिस को खबर कर दी।

घटना में किसी और की भी संलिप्‍तता का संदेह

मृतक के भतीजे महंगु तुरी ने बताया कि जमुनी ने शव को दफना कर साक्ष्य मिटाने के लिए उसपर ईंट बिछा दी थी। उसी पर खाट रखकर सोती थी। उसने कहा कि चाची ने अपनी बदचलनी को छिपाने के लिए चाचा की हत्या कर दी। उसकी बदलचनी के कारण ही चाचा गांव में एक व्यक्ति की हत्या कर चार माह पहले सजा काटकर घर आए थे। मृतक के भतीजा ने आशंका जाहिर की कि हत्या उसने अकेले नहीं की है। इसमें किसी और की भी संलिप्तता है।

You May Also Like

English News