पति ने पत्नी से की ऐसी हरकत आप भी जानकर सन्न रह जायेंगे!

लखनऊ : पति ने पत्नी से की ऐसी हरकत आप भी जानकर सन्न रह जायेंगे ! निगोहां के बिरसिंहपुर गांव में एक पति ने पत्नी के सिर पर फावड़े से ताबड़तोड कई वार कर दिया। निगोहां पुलिस ने महिला को इलाज के लिए ट्रामा सेन्टर भेजा, जहां उसकी  हो गयी। वही घटना के बाद गांव में महिला के मायके पक्ष और पड़ोसियों के बीच कहासुनी भी हुई । मौके पर मौजूद सीओ मोहनलालगंज और इंस्पेक्टर निगोहां ने समझा बुझाकर दोनो पक्षों को शांत कराया।

रायबरेली जनपद बछरावां के दलखम्भन खेड़ा गांव के रहने वाले रामेश्वर ने अपनी बेटी 32 वर्षीय कांती देवी का विवाह करीब 8 वर्ष पूर्व निगोहां के बिरसिंहपुर गांव के रहने वाले सत्यनारायण यादव के साथ किया था। सत्य नारायण अपने परिवार से आलग अपनी पत्नी के साथ रहता था। बताया जाता है कि सत्यनारायण शादी के बाद से अपनी पत्नी से देहज की मांग करता था। दहेज की मांग व प्रताडऩा के चलते कांती देवी के पिता रामेश्वर ने बछरांवा थाने में सत्यनारायण के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का मामला दर्ज कराया था मामला न्ययालय में चल रहा था।

बीती 12 जुलाई 2016 को कोर्ट के आदेश पर पति पत्नी को लेकर बिरसिंहपुर ले आया था। कांती देवी के मायके वालों का कहना है कि सत्यानाराण पत्नी पर सुलह का दबाव बनाते हुए आये दिन कांती को मारापीटा करता था। शुक्रवार को कांती देवी ने अपने भाई अजीत के साथ दवा लेकर वापस बिरसिंहपुर आयी। भाई के वापस घर जाने के बाद शाम को ही किसी बात को लेकर फिर पति और पत्नी में कहासुनी होने लगी।

उस वक्त को किसी तरह विवाद शांत हो गया पर शनिवार दोपहर फिर दोनों में झगड़ा होने लगा और करीब 12 बजे सत्यनारायन यादव ने अपनी पत्नी कांती देवी के सिर पर फावड़े से ताबड़तोड कई वार कर दिये। हमले में कांती देवी गंभीर रूप से घायल होकर बेहोश गयी। वही पति उसको मरा समझकर मौके से भाग निकला। इस बीच गांव के लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम पर घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर निगोहां पुलिस भी पहुंच गयी। उस वक्त कांतीदेवी की सांस चल रही थी। पुलिस ने आनन-फानन में उसको इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती करया, जहां कुछ ही देर में उसकी मौत हो गयी। छानबीन के बाद पुलिस ने कांती देवी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
मायके वालों का गांव वालो से हुआ झगड़ा
कांती देवी की मौत की खबर पाकर मायके पक्ष के लोग भी बिरसिंहपुर गांव पहुचे। बताया जाता है कि मृतक का भाई अजीत और बहन अनीता आक्रोशित होकर पड़ोसियों से झगड़ा करने लगे। इस बीच वहां मौजूद सीओ मोहनलालगंज और इंस्पेक्टर निगोहां ओम वीर सिंह ने किसी तरह मामले को शांत कराया। वहीं गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस बल मुस्तैद कर दिया गया। इंस्पेक्टर निगोहां ओम वीर सिंह ने बताया कि हत्या में प्रयुक्त फावड़ा बरामद कर लिया गया है आरोपी की तलाश की जा रही है।

You May Also Like

English News