पत्नी की शॉपिंग से बोर होने वाले पतियों के लिए ये है सबसे बड़ी खुशखबरी!

अक्सर देखा गया है कि पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को शॉपिंग का बहुत क्रेज होता है. इतना ही नहीं, ये भी देखा गया है कि महिलाओं के पार्टनर्स उनके पीछे-पीछे उनके शॉपिंग बैग्स उठाए घुमते रहते है.पत्नी की शॉपिंग से बोर होने वाले पतियों के लिए ये है सबसे बड़ी खुशखबरी!

पुरुषों को इसी सिचुएशन को समझते हुए चीन ने ‘हस्बेंड रेस्ट बूथ’ ऐसे पतियों और पार्टनर्स के लिए बनाया है जो अपनी फीमेल पार्टनर के पीछे शॉपिंग बैग लिए घूमते हैं. जिस दौरान फीमेल पार्टनर्स शॉपिंग करेंगी तब मेल पार्टनर्स ग्लास एंकेस्ड कियोस्क (glass-encased kiosks) में जाकर आराम कर सकते है. यहां पर उनके लिए आरामदायक मसाज चेयर, कंप्यूटर गेम्स और टी.वी देखने के लिए ऐलिवेटिड स्क्रीन है.

चीन से निपटने और अपनी ताकत में इजाफा करने के लिए नरेंद्र मोदी सरकार ने जारी किए 1600 करोड़

इस रेस्ट बूथ के क्रिएटर्स का कहना है कि फ्यूचर में आने वाले मिनी मेन-केव चीन में सबसे पहले बनेंगे और ऐसे 4 बूथ शंघाई के एक्संपेंसिव मॉल्स में बन भी चुके हैं. इन बूथ्स को बनाने में तकरीबन 3.8 लाख रुपय की लागत लगी है.

इन बूथ्स की खास बात ये है कि आप बिना पैसे दिए मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए अपनी जगह रिसर्व कर सकते है.

शंघाई कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर ओवन वी ने कहा है कि अगर ये प्रोजेक्ट सफल रहता है तो वे फिर आगे और मॉल्स में भी इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाएंगे.

एनोरम्स ग्लोबल हारबर मॉल के बारे में ओवन वी का कहना है कि कुछ पुरुषों को शॉपिंग करना और अपनी पत्नी के पीछे-पीछे घूमना बिल्कुल पसंद नहीं होता और वो टी.वी देखना या गेम्स खेलना ज्यादा पसंद करते है. वहीं कुछ पुरुष बूथ से ज्यादा अपनी वाइफ की कंपनी पसंद करेंगे. लेकिन ये बूथ्स टीनेजर्स को काफी एक्साइटिंग लग रहे हैं.

 

You May Also Like

English News