‘पद्मावती’ के विरोध की चिंगारी ब्रिटेन तक पहुंची

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ का विरोध थमता नहीं दिख रहा है। ना केवल देश में बल्कि विदेशों में भी अब इसका विरोध देखा जा रहा है।

दरअसल ब्रिटेन में राजपूत समाज के लोगों ने ‘पद्मावती’ का विरोध शुरू कर दिया है जबकि वहां की सेंसर बोर्ड ने बिना किसी कट के फिल्म को पास कर दिया है। विरोध कर रही राजपूत संगठन का कहना है कि फिल्म से राजपूतों की भावनाएं आहत होंगी, उन्होंने ब्रिटिश बोर्ड ऑफ फिल्म क्लासिफेकेशन को चिट्ठी लिखी है कि ब्रिटेन में फिल्म की रिलीज ना हो।
 

ब्रिटेन में राजपूत समाज के अध्यक्ष महेंद्र सिंह जडेजा ने कहा कि ‘पद्मावती’ हमारी संस्कृति, इतिहास और परंपरा को ठेस पहुंचाती है इसलिए उन्होंने फिल्म के बहिष्कार का फैसला किया है। यही नहीं भारत के कई राज्यों में फिल्म का विरोध हो रहा है ऐसे में ब्रिटेन में भी फिल्म की रिलीज पर रोक लगे।
 

इससे पहले फिल्म ‘पद्मावती’ का विवाद बढ़ते-बढ़ते हाईकोर्ट तक पहुंच गया। अखंड राष्ट्रवादी पार्टी ने ‘पद्मावती’ के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की थी। इस याचिका में मांग की गई थी कि रिलीज से पहले इसे तीन जाने-माने इतिहासकारों और एक हाईकोर्ट के जज को दिखाया जाना चाहिए।
 

लेकिन बाद में दिल्ली हाईकोर्ट ने पद्मावती के रिलीज पर रोक वाली याचिका खारिज कर दी। दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि ‘पद्मावती’ की रिलीज के खिलाफ दायर याचिका निराशाजनक और गलत है, ऐसी याचिकाएं प्रदर्शन कर रहे लोगों को प्रोत्साहन दे रही हैं।
 

You May Also Like

English News