पद्मावती पर करण जौहर ने दिया बड़ा बयान, कह- ‘मेरा चुप रहना ही ठीक, बोला तो होगा विवाद’

राजनीतिक गलियारों में पद्मावती के जबरदस्त विरोध के बीच भंसाली को फिल्म इंडस्ट्री का जोरदार सपोर्ट मिला है. कई सेलेब्स और एसोसिएशन भंसाली के पक्ष में उतर आए हैं. जावेद अख्तर, सलमान खान, अर्जुन कपूर, जैकलीन के बाद अब करण जौहर ने भी पद्मावती का समर्थन किया है. हालांकि उन्होंने विवाद ज्यादा कुछ नहीं बोला. करण ने कहा, ‘मैं पद्मावती जैसे विवादित मामले पर बयान नहीं देना चाहता. इस पर मेरे कुछ भी बोलने से और बखेड़ा खड़ा हो सकता है.’पद्मावती पर करण जौहर ने दिया बड़ा बयान, कह- 'मेरा चुप रहना ही ठीक, बोला तो होगा विवाद'इन्हें पहचान सकते हैं आप? ये बच्चे आज बन चुके हैं बॉलीवुड सुपर स्टार्स..

इससे पहले सोमवार को फिल्म इंडस्ट्री के 5 संगठनों ने कहा कि सरकार को पद्मावती की रिलीज के लिए सुरक्षित माहौल देना चाहिए. भंसाली को मिल रही धमकियों और पद्मावती पर विरोध के खिलाफ मनोरंजन जगत के 5 संगठन 16 नवंबर को 15 मिनट के लिए शूटिंग पर रोक लगाकर अपना विरोध जाहिर करेंगे.

कोई नहीं रोक सकता फिल्म- दीपिका पादुकोण

पद्मावती की रिलीज को लेकर जगह-जगह हो रहे विरोध और राजनेताओं की बैन लगाने वाली मांग पर दीपिका का गुस्सा फूटा. उन्होंने कहा, फिल्म की रिलीज बहुत जरूरी है और इसे रिलीज होने से कोई नहीं रोक सकता. हम एक राष्ट्र के रूप में कहां पहुंच गए हैं? ये डरावना है, ये बहुत डरावना है, हम आगे बढ़ने के बदले पीछे जा रहे हैं. हमारी अगर किसी को जवाबदेही है तो वह सिर्फ सेंसर बोर्ड को है और मैं जानती हूं और मुझे पूरा विश्वास है कि इस फिल्म को रिलीज होने से कोई नहीं रोक सकता. ये सिर्फ पद्मावती से सं‍बंधि‍त नहीं हैं बल्कि हम एक बहुत बड़ी लड़ाई लड़ रहे हैं.

पहले फिल्म देखें फिर तय करें- शाहिद कपूर

फिल्म में राजा रतन सिंह का किरदार निभा रहे शाहिद कपूर ने कहा, कोई भी विचार रखने से जरूरी है पहले फिल्म को देखना. विरोधी पहले फिल्म देखें फिर अपनी प्रतिक्रिया दें. हमने सभी की भावनाओं और हितों को ध्यान में रखते हुए फिल्म बनाई है. हम सभी की भावनाओं का सम्मान करते हैं.

जगह-जगह विरोध प्रदर्शन

पद्मावती को लेकर देश में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान से लेकर वाराणसी में लोग सड़कों पर उतरे. फिल्म के पोस्टर जलाए गए. मंगलवार को कोटा के मॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाने के विरोध में हॉल में तोड़फ़ोड़ की गई. इस हिंसा के लिए कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है. 

पद्मावती के विरोध में जयपुर का राजपरिवार

जयपुर के पूर्व राजपरिवार ने भी पद्मावती का विरोध किया है. पूर्व राजघराने की प्रिंसेस और विधायक दीया कुमारी ने पद्मावती पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. उन्होंने कहा कि फिल्म के बहाने राजस्थान के इतिहास से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कहा है कि वो किसी भी कीमत पर फिल्म प्रदर्शित नहीं होने देंगे. वहीं पद्मावती के विरोध में राजपूत महिलाओं ने सड़कों पर उतकर प्रर्दशन किया है.

सफाई दे चुके हैं भंसाली

बता दें कि पद्मावती में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मिनी के बीच ड्रीम सीक्वेंस को लेकर विवाद था जिस पर मेकर्स की ओर से सफाई आ चुकी है. भंसाली ने हाल ही में सोशल मीडिया में एक बार फिर कहा कि फिल्म में इस तरह का कोई सीक्वेंस नहीं है. ये फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज होनी है.

भंसाली के साथ हुई थी हाथापाई

फिल्म में पद्मावती का रोल दीपिका पादुकोण कर रही हैं. जबकि अलाउद्दीन खिलजी के किरदार में रणवीर सिंह हैं. करणी सेना फिल्म की शूटिंग के दौरान से ही इसका विरोध कर रही है. राजस्थान में शूटिंग के वक्त तोड़फोड़ की घटना हुई थी. करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली के साथ हाथापाई भी की थी.

You May Also Like

English News