परिणीती चोपड़ा नहीं बनना चाहती थी एक्ट्रेस जानिए क्यों

बॉलीवुड की चुलबुली एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा की अगली फिल्म ‘मेरी प्यारी बिंदू’ जल्द आ रही है. फिल्म के छोटे-छोटे कई ट्रेलर रिलीज़ हो चुके हैं जिन्हें लोगों ने खूब पसंद किया. इस फिल्म में परिणीती चोपड़ा एक सिंगर की भूमिका निभा रहीं हैं

8 साल में इतना बदल गये बालिका वधू के जग्गा, देखे ये खास तस्वीरें

फिल्म से परिणीती का गाना ‘माना के हम यार नहीं’ भी रिलीज़ हो चुका है जो चार्टबस्टर लिस्ट में टॉप पर है. इस गाने को खुद उन्होंने गाया है. परिणीती का कहना है कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो एक्टिंग के क्षेत्र में आएंगी. वर्ष 2011 में आई फिल्म ‘लेडीस वर्सेस रिकी बहल’ में दमदार अभिनय करने वाली परी ने ‘इशकजादे’, ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘हंसी तो फसी’ और ‘दावत-ए-इश्क’ में काम किया है.

अपने फिल्मी सफर की बात करते हुए परिणीति ने एक बयान में कहा, “मेरा कभी सपना नहीं था कि मैं अभिनेत्री बनूं या अभिनय की दुनिया में आऊं, बस यूं ही एक फिल्म के लिए हामी भर दी. लेकिन जब मेरी पहली फिल्म रिलीज हुई, तब मैंने जाना कि अपने सपनों में जी रही हूं. मैंने हजारों लोगों को अपनी फिल्म को देखते, प्यार करते और मेरे लिए सड़क पर आते हुए देखा है.”

परिणीति बॉलीवुड के उन कलाकारों में से हैं, जो मार्क बेनिंगटन की फोटो से सजी किताब ‘लिविंग द ड्रीम’ में शामिल थे. इस किताब में परिणीति की जो फोटो है, वह फिल्म ‘इशकजादे’ की रिलीज के बाद फैन्स के साथ उनकी मुलाकात के दौरान ली गई थी.

बेनिंगटन द्वारा ली गई इस फोटो को 28 वर्षीय अभिनेत्री ने ‘गजब’ बताया. उन्होंने कहा, “इस किताब में मेरी फोटो बहुत ही खास है.”

‘लिविंग द ड्रीम’ किताब हार्पर कोलिन्स इंडिया द्वारा प्रकाशित की गई है. इसकी भूमिका करण जौहर ने लिखी है और कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा ने भी इस किताब में योगदान दिया है.

You May Also Like

English News