पहला सेट दाखिल, 132 साल पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष बनेंगे राहुल

आखिरकार वह पल आ ही गया है, जिसका कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पिछले काफी अरसे से इंतज़ार था. राहुल गांधी ने सोमवार सुबह पार्टी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भर दिया है. इस दौरान उनके साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, दिल्ली के पूर्व सीएम शीला दीक्षित, ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे.पहला सेट दाखिल, 132 साल पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष बनेंगे राहुलCM योगी का तंज, कहा- मायावती अपने मेयरों से इस्तीफा दिलाएं, बैलेट पेपर से करा देंगे चुनाव

राहुल गांधी के लिए पहले सेट के लिए कांग्रेस नेता अहमद पटेल, पुडुचेरी नारायण सामी, पूर्व दिल्ली सीएम शीला दीक्षित, मोतीलाल वोहरा, कमलनाथ, मोहसिना किदवई, तरुण गोगोई और अशोक गहलोत प्रस्तावक बने.

नामांकन करने से पहले राहुल ने अपनी मां सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की. गुजरात विधानसभा में कांग्रेस की वापसी की राह देख रहे कार्यकर्ताओं में वोटिंग से ठीक पहले नया जोश भर सकता है.

यह लगभग दो दशक बाद है, जब कांग्रेस पार्टी को उसका नया पार्टी अध्यक्ष बनेगा. मौजूदा अध्यक्ष सोनिया गांधी 1998 से पार्टी की कमान संभाल रही हैं.

पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकार अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन के अनुसार किसी अन्य ने अभी तक पर्चा दाखिल नहीं किया है. चुनाव मैदान में राहुल गांधी के एकमात्र उम्मीदवार रहने की संभावना है और कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में उनके चुनाव के लिए सभी रास्ते खुल गए हैं. 

इस मौके पर पार्टी दफ्तर पर कांग्रेस के आला नेताओं का जमावड़ा लगा रहा. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, राजीव शुक्ला, कर्ण सिंह समेत पार्टी का लगभग हर बड़ा नेता वहां मौजूद रहा.

आपको बता दें कि अध्यक्ष पद चुनाव से ठीक पहले राहुल गांधी के रिश्तेदार शहजाद पूनावाला ने चुनाव प्रक्रिया पर सवाल उठाए थे. उन्होंने कहा था कि यह इलेक्शन नहीं सिलेक्शन है. जिसके बाद उनके ही भाई तहसीन पूनावाला ने उनसे संबंध तोड़ दिए थे, कांग्रेस नेताओं ने भी इस बयान को ज्यादा तवज्जों ना देने की बात कही थी. हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को गुजरात में एक रैली के दौरान शहजाद की तारीफ की थी.

गुजरात चुनाव में दम दिखा रहे हैं राहुल

गौरतलब है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी नामांकन भरने करने के बाद फिर से पार्टी के लिए प्रचार करने गुजरात जाएंगे. राहुल 5 और 6 दिसंबर को कच्छ, मोरबी और सुरेंद्र नगर का दौरा करेंगे. गुजरात विधानसभा चुनाव के चलते राहुल लगभर पूरे राज्य में चुनावी रैलियां, रोड शो और नुक्कड़ सभाएं कर चुके हैं.

You May Also Like

English News