पहली फिल्म से रातोंरात स्टार बना थ्‍ाा ये हीराे, फिर ऐसे बुरे दिन आए

अपनी पहली ही फिल्म से लोगों के दिल पर राज करने वाले एक्टर राहुल रॉय आज अपना 49वां जन्मदिन मना रहे हैं। राहुल रॉय की पहली फिल्म ‘आशिकी’ थी। इस फिल्म में उन्होंने एक्ट्रेस अनु अग्रवाल के साथ काम किया था। महेश भट्ट की इस फिल्म ने राहुल रॉय को रातों-रात सुपर स्टार बना दिया था। लेकिन शायद उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया इसलिए ‌इतनी बड़ी हिट देने वाला ये हीरो आज गुमनानी की जिंदगी जी रहा है। आइए जानते हैं अब कहां हैं राहुल रॉय और क्या है उनकी हालत…
पहली फिल्म से रातोंरात स्टार बना थ्‍ाा ये हीराे, फिर ऐसे बुरे दिन आए

राहुल फिल्मों से तो गायब हो गए लेकिन फिल्म ‌इंडस्ट्री से जुड़े रहे। वो कुछ फिल्मों का निर्देशन भी कर चुके हैं। उन्होंने भोजपुरी फिल्मों में भी हाथ आजमाया लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। कुछ साल पहले उन्होंने रियलिटी शो बिग बॉस में भी पार्टिसिपेट किया था। राहुल बिग बॉस सीजन 1 के विनर भी रहे थे। लेकिन इसके बाद भी उनके करियर पर कुछ खास असर नहीं पड़ा। वो अभी भी बॉलीवुड में अपने पैर जमाने की कोशिश कर रहे हैं। कैसे हुई बॉलीवुड में एंट्री…

बड़ी खबर: 3700 करोड़ के घोटाले में फंसी शारुख की लैला, जल्द जा सकती हैं जेल

राहुल रॉय ने अपनी पढ़ाई कनाडा से की। इसके बाद दिल्ली आकर ग्रेजुएशन पूरा किया। उस दौरान उन्होंने मॉडलिंग शुरू कर दी थी। राहुल ने कभी फिल्मों में काम करने के बारे में नहीं सोचा था। राहुल एक बिजनेसमैन फैमिली से हैं। राहुल की मां आर्टिकल लिखा करती थीं। एक बार उनका आर्टिकल पढ़कर महेश भट्ट उनसे मिलने पहुंचे। घर पर राहुल की तस्वीर देखकर भट्ट साहब ने राहुल के बारे में पूछा। उस वक्त वो घर पर मौजूद नहीं थे। इसके बाद राहुल ने महेश भट्ट को कॉल किया।

महेश जी ने राहुल को ऑफिस बुलाया। साथ ही फिल्म ‘आशिकी’ में काम करने का ऑफर दे दिया। उन्हें एक्टिंग सीखने की भी नसीहत दी। राहुल ने मॉडलिंग करते हुए ही एक्टिंग भी सीखनी शुरू कर दी। राहुल जब फिल्म कर रहे थे तो उन्होंने सोचा भी नहीं था कि ये फिल्म इतनी बड़ी हिट होगी। ये फिल्म महेश भट्ट की निजी जिंदगी पर आधारित थी। फिल्म रिलीज होने के दिन मुकेश भट्ट मेट्रो सिनेमा में राहुल को पहला शो दिखाने ले गए। लोगों को जैसे ही राहुल के बारे में पता चला वे बेकाबू हो गए। 

उन्हें रोक पाना मुश्किल था। लोगों से बचने के लिए राहुल मैनेजर के केबिन में छिप गए। किसी तरह उन्होंने फिल्म देखी। फिल्म खत्म होते ही जब लोगों को ये पता चला कि वो मैनेजर के केबिन में हैं तो वे हल्ला मचाने लगे। लोग मैनेजर के केबिन को तोड़ने की कोशिश करने लगे। बाद में किसी तरह बचकर राहुल वहां से निकले। रास्ते में मुकेश भट्ट ने राहुल से कहा, ‘तू तो स्टार बन गया’। इस तरह राहुल रॉय अपनी पहली फिल्म से ही रातों-रात स्टार बन गाए थे। ये फिल्म 6 महीने तक हाउसफुल चलती रही। 

 सनी लियोन का नाम लेकर छात्राओ के साथ करता था घिनौना काम, कहता सेक्स टॉय का इस्तेमाल करो

फिल्म सुपरहिट थी लेकिन इसका फायदा राहुल को नहीं मिल रहा था। 6 महीने बाद ‌भी उनके पास एक भी फिल्म का ऑफर नहीं आया। वो परेशान होकर महेश भट्ट के पास गए तो उन्होंने समझाया कि अभी लोग तुम्हें देख रहे हैं। वो सोच रहे हैं कि तुम्हें कैसे प्रेजेंट किया जाए। इसी तरह 8 महीने गुजर गए और राहुल खाली बैठे रहे। लेकिन अचानक उनके पास 60 फिल्मों के एक साथ ऑफर आ गए। राहुल ने उनमें से महज 11 दिन में 47 फिल्में साइन कीं। वो एक दिन में तीन-तीन फिल्मों की शूटिंग करते थे। बाद में उन्हें लगा कि उन्होंने कुछ ज्यादा ही फिल्में साइन कर दी हैं।

इस वजह से काम करना थोड़ा मुश्किल हो रहा था। इसलिए उन्होंने बाद में 21 प्रोड्यूसरों के पैसे वापस कर दिए थे। इसके बाद राहुल ने ‘फिर तेरी याद आई’, ‘जानम’, ‘सपने साजन के’, ‘गुमराह’ और ‘मझदार’ जैसी फिल्में कीं। कुल मिलाकर उन्होंने अपने करियर में 25 हिंदी फिल्में कीं। लेकिन उनमें से एक भी नहीं चली। कुछ तो महेश भट्ट के निर्देशन में भी बनीं लेकिन राहुल को असफलता ही हाथ लगी। राहुल ने महेश भट्ट का साथ कभी नहीं छोड़ा। वो लगातार उनसे जुड़े रहे।

राहुल रॉय की लव लाइफ भी हमेश विवादित रही। सबसे पहला उनका अफेयर महेश भट्ट की बेटी पूजा भट्ट के साथ हुआ। लेकिन दोनों ने कभी अपने रिश्ते को नहीं स्वीकारा। राहुल की फ्लॉप फिल्मों के बीच उनकी जिंदगी में मनीषा कोईराला की एंट्री हुई। दोनों ने फिल्म ‘मझदार’ में साथ काम किया था। दोनों एक-दूसरे को डेट करने लगे। लेकिन राहुल अपने करियर को लेकर काफी परेशान रहते थे। वो महेश भट्ट को फॉलो करते रहते थे। सुबह से शाम तक वो भट्ट साहब के साथ रहते थे। हर ईवेंट में वो उनके साथ देखे जाते थे।

मनीषा राहुल और अपने रिलेशन को लेकर काफी सीरियस थीं। लेकिन राहुल को आधी रात के बाद मनीषा की याद आती थी। यहां तक कि जब वो मनीषा के साथ होते थे तो महेश भट्ट को कॉल करने के लिए मनीषा का फोन इस्तेमाल करते थे। जैसे ही उन्हें पता चलता था कि महेश भट्ट फ्री हैं तो वो मनीषा को छोड़ उनसे मिलने पहुंच जाते थे। मनीषा को लगने लगा कि राहुल उन्हें नजरअंदाज कर रहे हैं तो उन्होंने राहुल से रिश्ता तोड़ने के बारे में सोचा। और इस तरह दोनों का रिश्ता यहीं खत्म हो गया। 

राहुल की फिल्में वैसे भी नहीं चल रही थीं तभी उनके साथ कुछ ऐसा हुआ जिससे उनकी जिंदगी में सैलाब आ गया। राहुल फिल्म सिटी में ‘जब जब दिल मिले’ की शूटिंग कर रहे थे। एक सीन में उन्हें जीप चलानी थी। सीन शुरू हुआ और जब राहुल गाड़ी चला रहे थे तो उन्हें पता चला कि गाड़ी के ब्रेक फेल हो चुके हैं। उन्होंने गाड़ी रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन वहां शूटिंग देख रहा एक शख्स गाड़ी के सामने आ गया। गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया और उस आदमी के पैरों की हड्डियां टूट गईं। उस शख्स ने राहुल के खिलाफ केस कर दिया। राहुल अब बुरी तरह फंस चुके थे।

फिल्म के प्रोड्यूसरों को अपनी फिल्म रुक जाने का डर था इसलिए उन्होंने राहुल की मदद की। इससे वो जेल जाने से तो बच गए लेकिन उनकी ईमेज पूरी तरह से खराब हो चुकी थी। अब उन्हें फिल्में मिलना भी बंद हो गईं। इसके बाद उन्होंने कई भोजपुरी‌ फिल्मों में भी काम किया। इतना ही नहीं ‌इंडस्ट्री में बने रहने के लिए राहुल को बी और सी ग्रेड फिल्में करने पर भी मजबूर होना पड़ा। लगता है पहली फिल्म के बाद राहुल के करियर पर ग्रहण लग गया था। राहुल ने मॉडल राजलक्ष्मी खानविलकर से शादी कर ली।

लेकिन निजी जिंदगी में भी उन्हें सफलता नहीं मिली। जल्द ही दोनों तलाक की अर्जी दे दी। अब दोनों अलग हो गए हो गए हैं। फिलहाल राहुल ने कुछ फिल्मों का निर्देशन भी शुरू किया है। अब उनका एक राहुल रॉय प्रोडक्‍शन के नाम से प्रोडक्‍शन हाउस भी है। वो रीजनल फिल्मों को भी प्रोड्यूस करते हैं। हम ‌उम्मीद करते हैं कि तकदीर उनकी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को एक मौका और दे। जिससे वो भी बॉलीवुड इंडस्ट्री में नाम कमा सकें। 

 

You May Also Like

English News