पहली बार राष्ट्रपति कोविंद दो दिवसीय दौरे पर आ रहे है लखनऊ, स्वच्छता कार्यक्रम की करेंगे शुरुआत

राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दो दिवसीय दौरे पर लखनऊ आ रहे हैं. राज्य सरकार ने राष्ट्रपति के स्वागत के लिए खास इंतजाम कर रखे हैं. इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में राज्य सरकार उनका अभिनंदन करेगी. जिला प्रशासन के अधिकारियों के मुताबिक इस कार्यक्रम में राज्य सरकार के मंत्री, विधायक समेत करीब 1500 गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहेंगे. इनमें उद्योगपति, पूर्व अधिकारी, शिक्षक और अन्य क्षेत्र के लोग शामिल रहेंगे.पहली बार राष्ट्रपति कोविंद दो दिवसीय दौरे पर आ रहे है लखनऊ, स्वच्छता कार्यक्रम की करेंगे शुरुआतसीएम योगी का बड़ा फैसला: प्रदेश के 46 मदरसों की अनुदान राशि रोकी, जानिए क्यों?

राष्ट्रपति दोपहर करीब 2.45 पर लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे, यहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा. राजभवन में कुछ देर विश्राम के बाद शाम 4.30 से 6 बजे तक वह इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित समारोह में शामिल होंगे. इसके बाद मुख्यमंत्री आवास पर रात्रि 8.30 पर भोज में शामिल होने के बाद राजभवन में रात्रि विश्राम के लिए वापस आएंगे.

शुक्रवार सुबह राजभवन में ब्रेक फास्ट के बाद राष्ट्रपति यहां लोगों से मुलाकात भी कर सकते हैं. करीब एक बजे दोपहर में राष्ट्रपति कोविंद हेलिकप्टर से अपने गृह नगर कानपुर के लिए रवाना हो जाएंगे. राष्ट्रपति यहां कल्याणपुर में खुले में शौच से मुक्त घोषित हुए ईश्वरीगंज गांव भी जाएंगे. इस गांव में वह ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे. कोविंद गांव को खुले में शौच से मुक्ति दिलाने में सक्रिय भूमिका निभाने वाले पांच लोगों को सम्मानित भी करेंगे. राष्ट्रपति के इस कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे. शाम छह बजे एयरपोर्ट पर वापस लौटेंगे और यहीं से वापस दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे. 

राष्ट्रपति के दौरे को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक भी हुई है. इसमें राष्ट्रपति की सुरक्षा और उनके कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए सभी इंतजाम करने पर चर्चा की गई. साफ-सफाई और सड़कों की मरम्मत को कार्यों के निर्देश जारी किए गए हैं. यातायात व्यवस्था सही रखने के लिए ट्रैफिक सिग्नल जैसे जेब्रा लाइन, स्टाप लाइन, रोड डिवाइडिंग लाइन को पेंट कराने और खराब ट्रैफिक सिंग्नल को ठीक करने के निर्देश दिए गए. आवश्यक स्थानों पर डॉक्टरों की टीम के साथ एम्बुलेंस की तैनाती करने और शहर के बड़े अस्पतालों को एलर्ट रहने के भी निर्देश भी दिए गए हैं.

You May Also Like

English News