पहले वनडे में जीत के साथ टीम इंडिया ने ही नहीं, इंग्लैंड ने भी तोड़े कई रिकॉर्ड

पुणे में खेले गए पहले वनडे में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को तीन विकेट से मात देकर शानदार जीत दर्ज की। इस मैच में टीम इंडिया ने गजब का जीवट दिखाया और हारी हुई बाजी अपने नाम की। सीरीज में 1-0 से बढ़ता बनाना वाली कोहली एंड कंपनी ने एक के बाद, कई रिकॉर्ड ढेर किए। आइए डालते हैं इस मैच में बने आंकड़ो पर एक नजर:

पहले वनडे में जीत के साथ टीम इंडिया ने ही नहीं, इंग्लैंड ने भी तोड़े कई रिकॉर्ड

 कोहली ने लक्ष्या का पीछा करते हुए 17वां शतक जड़ा। लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले बल्लेबाज बन गए। उन्होंने सचिन के रिकॉर्ड की बराबरी की। हालांकि लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करने में यह कोहली का 15वां शतक है, जो सचिन से एक ज्यादा है।

जाधव को शतक लगाते हुए पत्नी देख नहीं पाई, क्योंकि…

 क्रिकेट वनडे में यह दूसरा मौका है जब किसी टीम ने 350 का आंकड़ा छुआ हो और उसके किसी भी बल्लेबाज ने शतक न जड़ा हो। इंग्लैंड ने पुणे में 350 रन बनाए, जिसमें जसन रॉय के 73, जो रूट के 78 और बेन स्टोक्स 62 रन शामिल हैं।
 यह लगातार तीसरा मौका है जब रविचंद्रन अश्विन ने 60 से अधिक रन अपनी गेंदबाजी के दौरान दिये हों। अश्विन ने 8 ओवर में 7.87 की इकोनॉमी से 63 रन लुटाए। उन्हें मैच में एक भी सफलता नहीं हासिल हुआ।
 टीम इंडिया विश्व की इकलौती टीम है जिसने 350 से अधिक का लक्ष्य 3 बार सफलतापूर्क हासिल किया हो। इंग्लैंड से पहले भारत दो बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 350 से अधिक का लक्ष्य हासिल कर चुका है।
 बतौर कप्तान यह विराट कोहली का पांचवा शतक है। कोहली ने इस मैच में बतौर कप्तान 15वीं पारी खेली और 5वां शतक जड़ा। बतौर कप्तान उनका औसत 75 का है। हालांकि यह कोहली के करियर का 27वां शतक था।
 केदार जाधव ने अपने करियर का दूसरा शतक जड़ा। वनडे नें जाधव ने दो बार 50 से अधिक रन बनाए हैं और दोनों ही बार उसे शतक में तब्दील किया है। इससे पहले जाधव ने जिंबाब्वे के खिलाफ 105 रन की पारी खेली थी। जाधव घरेलु मैदान पर शतक जड़ने वाले पांचवे खिलाड़ी हैं।
 जो रूट ने इस दौरे के सभी 6 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में अर्धशतक बनाया है। 2015 विश्वकप के बाद इंग्लैंड का ने सातवीं बार 350 से अधिक का स्कोर किया है। उससे पहले इस टीम ने सिर्फ दो बार इतना स्कोर बनाया था।
 इस मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने 6 गेंदें खेली। इससे पहले धोनी ने भारत में लक्ष्य का पीछा करते हुए इतनी कम गेंदें 2010 में खेली थी। विराट कोहली ने अंतिम 14 वन-डे मैचों में 10 बार 50 या इससे अधिक का स्कोर बनाया है।
 केदार जाधव ने 29 गेंदों में 50 रन बनाए। इंग्लैंड के खिलाफ सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाले वे दूसरे भारतीय बन गए। केदार जाधव ने 65 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया, जो भारतीय द्वारा इंग्लैंड के खिलाफ बनाया गया दूसरा सबसे तेज शतक है।

 27वां शतक बनाने के लिए विराट कोहली ने 196 पारियां खेली, सबसे कम पारियों में ऐसा करने वाले विराट कोहली विश्व के पहले क्रिकेटर हैं। पांचवें विकेट के लिए कोहली और जाधव की 200 रनों की साझेदारी इंग्लैंड के खिलाफ 5वें विकेट के लिए सर्वाधिक भारतीय साझेदारी है।

 

You May Also Like

English News