पहले ही सीजन में 9 गेंदबाजों ने किया मुंबई टी20 लीग को शर्मसार, अंपायरों ने सौंपी रिपोर्ट

मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के तर्ज पर शुरू हुई मुंबई प्रीमियर लीग टी-20 टूर्नामेंट अपने पहले ही संस्करण में विवादों की वजह से सुर्खियों में आ गया है। दरअसल सोमवार को ट्रंफ नाइट्स और सोबो सुपर सोनिक के बीच टूर्नामेंट का सेमीफाइन मुकाबला खेला गया। पहले ही सीजन में 9 गेंदबाजों ने किया मुंबई टी20 लीग को शर्मसार, अंपायरों ने सौंपी रिपोर्ट

इस रोमांचक मुकाबले में ट्रंफ नाइट्स ने जीतकर फाइनल में अपनी जगह पक्की करने में कामयाब रही। लेकिन इस टूर्नामेंट के खत्म होते-होते एक दुखद खबर यह आ रही है कि अंपायरों ने इस लीग में खेल रहे 9 गेंदबाजों के बॉलिंग एक्शन को लेकर रिपोर्ट एमसीए को सौंपी है। 

एमसीए ने अंपायरों की इस रिपोर्ट को गंभीरता से ली है और कहा जा रहा है इस लीग के खत्म होने के अप्रैल में एक स्पेशल जनरल मीटिंग में इस मुद्दे को सुलझा लेगी। लीग के अधिकारी ने कहा है कि एमसीए के लिए यह इस साल का सबसे बड़ा इवेंट है और इस परेशानी को जल्द खत्म कर लिया जाएगा। 

इन 9 गेंदबाजों में से दो खेल चुके हैं फर्स्ट क्लास क्रिकेट 

जिन 9 गेंदबाजों के बॉलिंग एक्शन को लेकर अंपयारों ने रिपोर्ट एमसीए को सौंपी है, उसमें से दो गेंदबाजों के नामों का खुलासा हो चुका है और यह दोनों फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेल चुके हैं। इनमें से एक का नाम राजेश पवार है, जो मुंबई, बडोदरा और आंध्र प्रदेश की ओर से खेल चुके हैं। पवार 200 से ज्यादा फर्स्ट क्लास विकेट ले चुके हैं और इनका नाम 2007 वर्ल्ड कप के 30  संभावित खिलाड़ियों की सूची में शामिल रह चुका है। 

इसके अलावा दूसरे गेंदबाज हैं अख्तर शेख। शेख इस लीग में नॉर्थ मुंबई पेंथर की ओर से खेल रहे हैं। ये राजस्थान टी20 लीग में वसीम खान के नाम से खेल चुके हैं। 

दूसरे संस्करण से पहले सुलझा लिए जाएंगे सारे विवाद

एमसीए ने कहा है कि हम इस लीग के दूसरे संस्करण से पहले यह सारे विवाद सुलझा लेंगे। बता दें कि इस लीग में श्रेयस अय्यर और अजिंक्या रहाणे जैसे कई बड़े खिलाड़ी भी खेल रहे हैं। 

You May Also Like

English News