पाकिस्तान की जेल में बंद मरियम नवाज ने बेहतर सुविधाएं लेने से किया इनकार

भ्रष्टाचार के मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज ने रावलपिंडी की अदियाला जेल में बंद हैं. इस बीच मरियम ने जेल में बेहतर सुविधाओं को लेने से इनकार कर दिया है.भ्रष्टाचार के मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज ने रावलपिंडी की अदियाला जेल में बंद हैं. इस बीच मरियम ने जेल में बेहतर सुविधाओं को लेने से इनकार कर दिया है.  जेल प्रशासन की ओर से पूर्व पीएम और उनकी बेटी को बेहतर सुविधाओं का प्रस्ताव भी दिया गया था. आपको बता दें कि मरियम और नवाज को सोमवार तक इसी जेल में रहना होगा. दरअसल, सोमवार को ही उनकी जमानत याचिका दायर की जाएगी.  नवाज शरीफ और मरियम को शुक्रवार को पाकिस्तान पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया गया था. इससे पहले रिपोर्ट आई थी कि नवाज और उनकी बेटी को जेल में 'बी' क्लास सुविधा दी जा रही है. 'बी' क्लास सुविधा में घर का खाना खाने की इजाजत होती है, साथ ही अलग से बॉथरूम होता है. इसके अलावा बिस्तर, गद्दा, मेज और कुर्सी, कूलर, टीवी जैसी सुविधाएं भी मिलती हैं.  View image on Twitter View image on Twitter  ANI ✔ @ANI  Maryam Nawaz Sharif has issued a statement where she states 'I was offered to apply for better facilities by the Superintendent of the Jail. I refused of my own will...without any pressure from anyone'. She is lodged in Adiala jail in Rawalpindi. #Pakistan  8:11 PM - Jul 14, 2018 57 21 people are talking about this Twitter Ads info and privacy लंदन से लाहौर हवाई अड्डे पर उतरने के तुरंत बाद राष्ट्रीय उत्तरदायित्व ब्यूरो के अधिकारियों ने नवाज और उनकी बेटी मरियम को हिरासत में ले लिया था. इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी बेटी ने अपनी पहली रात जेल में बिताई थी. शुक्रवार को हिरासत में लेने के बाद, उन्हें एक विशेष विमान से इस्लामाबाद भेजा गया और उसके बाद उन्हें  फिर आदियाला जेल में ले जाया गया.  बता दें कि पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने पनामा पेपर्स कांड से जुड़े भ्रष्टाचार के केस में 6 जुलाई को नवाज शरीफ को 10 साल जेल की सजा सुनाई थी. जबकि उनकी बेटी मरियम नवाज को 7 साल कैद और दामाद कैप्टन (पूर्व) सफदर को एक साल की सजा सुनाई है.  कोर्ट ने नवाज पर 80 लाख पाउंड (करीब 73 करोड़ रुपये) और और मरियम पर 20 लाख पाउंड (18.2 करोड़ रुपये) का जुर्माना भी लगाया है.  अब नवाज शरीफ के वकील ख्वाजा हारिस सोमवार को कोर्ट में जमानत याचिका दायर करेंगे. जिसके बाद देखना होगा कि 25 जुलाई को पाकिस्तान में होने वाले आम चुनाव से पहले नवाज शरीफ परिवार को राहत मिलती है या उन्हें आगे भी जेल में वक्त बिताना पड़ेगा.

जेल प्रशासन की ओर से पूर्व पीएम और उनकी बेटी को बेहतर सुविधाओं का प्रस्ताव भी दिया गया था. आपको बता दें कि मरियम और नवाज को सोमवार तक इसी जेल में रहना होगा. दरअसल, सोमवार को ही उनकी जमानत याचिका दायर की जाएगी.

नवाज शरीफ और मरियम को शुक्रवार को पाकिस्तान पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया गया था. इससे पहले रिपोर्ट आई थी कि नवाज और उनकी बेटी को जेल में ‘बी’ क्लास सुविधा दी जा रही है. ‘बी’ क्लास सुविधा में घर का खाना खाने की इजाजत होती है, साथ ही अलग से बॉथरूम होता है. इसके अलावा बिस्तर, गद्दा, मेज और कुर्सी, कूलर, टीवी जैसी सुविधाएं भी मिलती हैं.

लंदन से लाहौर हवाई अड्डे पर उतरने के तुरंत बाद राष्ट्रीय उत्तरदायित्व ब्यूरो के अधिकारियों ने नवाज और उनकी बेटी मरियम को हिरासत में ले लिया था. इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी बेटी ने अपनी पहली रात जेल में बिताई थी. शुक्रवार को हिरासत में लेने के बाद, उन्हें एक विशेष विमान से इस्लामाबाद भेजा गया और उसके बाद उन्हें  फिर आदियाला जेल में ले जाया गया.

बता दें कि पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने पनामा पेपर्स कांड से जुड़े भ्रष्टाचार के केस में 6 जुलाई को नवाज शरीफ को 10 साल जेल की सजा सुनाई थी. जबकि उनकी बेटी मरियम नवाज को 7 साल कैद और दामाद कैप्टन (पूर्व) सफदर को एक साल की सजा सुनाई है.  कोर्ट ने नवाज पर 80 लाख पाउंड (करीब 73 करोड़ रुपये) और और मरियम पर 20 लाख पाउंड (18.2 करोड़ रुपये) का जुर्माना भी लगाया है.

अब नवाज शरीफ के वकील ख्वाजा हारिस सोमवार को कोर्ट में जमानत याचिका दायर करेंगे. जिसके बाद देखना होगा कि 25 जुलाई को पाकिस्तान में होने वाले आम चुनाव से पहले नवाज शरीफ परिवार को राहत मिलती है या उन्हें आगे भी जेल में वक्त बिताना पड़ेगा.

You May Also Like

English News