अब लाहौर में फिर लगेंगे चौके-छक्के, क्योंकि इस बार पाकिस्तान में होगा बंपर क्रिकेट सीजन…

पाकिस्तान:  वो देश जहां पर 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम पर हुए हमले के बाद दुनिया के हर किसी मुल्क ने खेलने के लिए जाने से मना कर दिया. हाल ये हुआ था कि 2011 वर्ल्ड कप के सह-संयोजक इस देश को एक भी मैच अपने यहां कराना नसीब नहीं हुआ. पाकिस्तान दुनिया के दूसरे क्रिकेट बोर्ड्स से अपने यहां आने की मिन्नतें करता, लेकिन कोई भी वहां खेलने को राजी नहीं था.

लेकिन, अब पाकिस्तान क्रिकेट फैंस के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी आई है. कोई एक या दो नहीं बल्कि कई देशों के खिलाड़ी लाहौर में आकर क्रिकेट खेलने वाले हैं. खबर है कि 9 साल में पहली बार पाकिस्तान में क्रिकेट सीजन देखने को मिल सकता है. पीसीबी ने पुष्टि की है कि पंजाब गवर्मेंट ने लाहौर में ‘वर्ल्ड-XI’ के साथ टी20 सीरीज को मंजूरी दे दी है. साथ ही श्रीलंका टीम भी वहां एक टी20 खेल सकती है और वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड भी नवंबर में 3 मैचों की टी20 सीरीज खेलने के बारे में विचार कर रही है.

ये भी पढ़े:  टेनिस: रॉफेल नडाल 3 साल बाद फिर से बने NO.1 खिलाड़ी

पीसीबी चेयरमैन नजाम सेठी ने लाहौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि जल्द ही पाकिस्तान में एक बंपर क्रिकेट सीजन आने जा रहा है.

2009 अटैक के बाद जिम्बाब्वे ने 2015 में पाकिस्तान का दौरा किया था और फिर पाकिस्तान सुपर लीग का फाइनल मैच लाहौर में खेला गया था. पंजाब सरकार ने वादा किया है कि एक हफ्ते लंबे दौरे पर ‘वर्ल्ड-XI’ के खिलाड़ियों को राष्ट्रपति स्तर की सुरक्षा मिलेगी. सितंबर 10 से शुरू होने जा रही इस तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए वर्ल्ड-XI की 15 सदस्यों वाली टीम में सभी टॉप टेस्ट प्लेइंग देशों से खिलाड़ी होंगे. इस टीम के कोच एंडी फ्लावर होंगे. सीरीज से पहले 26 और 27 अगस्त को आईसीसी की एक टीम सुरक्षा का जायजा लेने लाहौर पहुंचेगी.

नजीम सेठी, चेयरमैन, पीसीबी

ये बहुत ही बड़ी चीज है. सितंबर, अक्टूबर और नवंबर बहुत बड़े महीने होंगे. बहुत बड़ा एजेंडा है. हमें आपकी प्रार्थनाओं की जरूरत है. हम दरवाजे खोलेंगे और अंतरराष्ट्रीय टीमें यहां आएंगी. दुआ कीजिए कि हमारी सिक्यॉरिटी सॉलिड रहे.

ये भी पढ़े: इंटरनेशनल महिला क्रिकेटर है धोनी का अवतार, जानिए कैसे?

हालांकि अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि ‘वर्ल्ड-XI’ की टीम में कौन-कौन से बड़े खिलाड़ी होंगे लेकिन पीसीबी चेयरमैन के मुताबिक अगले 72 घंटों में खिलाड़ियों के नाम सामने आ जाएंगे. ये मैच अंतरराष्ट्रीय स्टेटस के ही होंगे और आईसीसी इस दौरे के सफल बनाने के लिए पाकिस्तान की पूरी मदद कर रहा है. हालांकि पूरे दौरे का खर्च पीसीबी ही उठाएगा लेकिन अगर ये दौरा सफल होता है तो सचमुच पाकिस्तान में क्रिकेट एक बार फिर बड़े रूप में लौट सकता है.
 

You May Also Like

English News