पाक का WTO बैठक में शामिल होने से इंकार, भारत में राजनयिक उत्पीड़न का दुष्प्रचार करने की साजिश

इस्लामाबाद में भारतीय राजनयिकों को प्रताड़ित करने वाले पाकिस्तान ने अपना दोष छिपाने के मकसद से उल्टे भारत पर आरोप लगाते हुए नया पैंतरा खेला है। 19-20 मार्च को नई दिल्ली में आयोजित होने वाले विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के सम्मेलन में शामिल होने का न्यौता स्वीकार कर चुके पाक ने अब भारत में पाक राजनयिक के साथ दुर्व्यवहार आरोप लगाते हुए इस सम्मेलन में शामिल नहीं होने का फैसला किया है। ऐसा करके वह सम्मेलन में आने वाले विदेशी मेहमानों को भारत के खिलाफ संदेश देना चाहता है।  पाक का WTO बैठक में शामिल होने से इंकार, भारत में राजनयिक उत्पीड़न का दुष्प्रचार करने की साजिशभारत ने पाकिस्तान के वाणिज्य मंत्री परवेज मलिक को डब्ल्यूटीओ की मंत्रिस्तरीय बैठक में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा था, जिसे इस्लामाबाद ने पहले स्वीकार लिया था। पाक विदेश मंत्रालय के सूत्रों ने कहा है कि भारत में लगातार राजनयिकों के परिवारों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार के चलते अब परिस्थिति बदल चुकी है और इसलिए उसने फैसला किया है कि वह इस निमंत्रण को स्वीकार न करे।

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पाक अखबार द नेशन से कहा, हमने इस बारे में भारत को बता दिया है। हम अपने वाणिज्य मंत्री को अब भारत नहीं भेज रहे हैं।  

You May Also Like

English News