पाक की ओर से LoC पर फायरिंग लगातार जारी, भारत ने भी दिया करारा जवाब…

जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से संघर्षविराम उल्लंघन थमने का नाम नहीं ले रहा है. पाकिस्तान की ओर से सीमा पार से फायरिंग लगातार जारी है. बुधवार को भीमबेर गली और पुंछ सेक्टर और के शाहपुर में भी पाकिस्तान की ओर से फायरिंग की गई. पाकिस्तानी सेना के जवान भारतीय पोस्टों और रियाइशी इलाकों को निशाना बनाने के लिए मोर्टार का इस्तेमाल कर रहे हैं. भारतीय जवान पाकिस्तान की इस हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं.पाक की ओर से LoC पर फायरिंग लगातार जारी, भारत ने भी दिया करारा जवाब...अभी-अभी: कांग्रेस ने निकाला ये बड़ा फॉर्मूला, मुख्यमंत्री वीरभद्र ही होंगे कांग्रेस का चुनावी चेहरा

पाकिस्तान की कायराना हरकतें जारी

मंगलवार को भी पाकिस्तान की ओर से आतंकियों और BAT टीम ने कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में हमले की कोशिश की थी लेकिन मुस्तैद भारतीय जवानों ने उन्हें खदेड़ दिया. कुपवाड़ा में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम और आतंकी 7-8 की संख्या में आए थे और भारतीय सैन्य पोस्ट को निशाना बनाने की कोशिश की. भारतीय जवानों ने उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने दिया और आतंकियों को खदेड़ दिया. इस हमले में भारतीय जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा. पाकिस्तान की तरफ से मोर्टार भी दाए गए. जिसके बाद भारतीय जवानों ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया.

उरी में हमला भी विफल किया 

दो दिन पहले उत्तर कश्मीर के उरी सेक्टर में भी पाकिस्तान से आए आतंकियों ने आर्मी कैंप पर हमले को नाकाम कर दिया. सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन में 4 आतंकी मारे गए. आतंकी यहां किसी सैन्य ठिकाने पर हमले की फिराक में थे. सेना ने पूरे इलाके में चौकसी बढ़ा दी है.

दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक की चेतावनी

पाकिस्तान की इन हरकतों को देखते हुए सोमवार को ही भारत के आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने पाकिस्तान को चेतावनी दी थी कि अगर वो अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक की जाएगी. बावजूद इसके पाकिस्तानी आतंकियों ने इस हमले की कोशिश की. ‘आजतक’ को मिली ख़ुफ़िया रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि सीमापार अलग-अलग लॉन्चिंग पैड पर 759 आतंकी पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में मौजूद हैं. ख़ुफ़िया सूत्रों से यह भी जानकारी मिली है कि केरन, तगंधार और नौगांव में पाकिस्तान की एसएसजी के साथ बैट (BAT) यानी पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम भी इन लॉन्चिंग पैड पर आतंकियों के साथ मौजूद है. जो घात लगाकर सुरक्षा बलों पर हमला कर सकते हैं.

You May Also Like

English News