पाक से दागे गए मोर्टार ने उड़ा दिया मो. रमजान का घर, 3 बच्चों समेत 5 लोगों की मौत

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. जम्मू-कश्मीर के पुंछ इलाके में आज सुबह सीमापार से भारी गोलाबारी हुई, जिसमें एक ही परिवार के तीन बच्चों समेत पांच लोगों की मौत हो गई. पाक से दागे गए मोर्टार ने उड़ा दिया मो. रमजान का घर, 3 बच्चों समेत 5 लोगों की मौतबालाकोट के देवता गांव में मोहम्मद रमजान के घर पर एक गोला गिरा. इससे घर से पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. मरने वालों में तीन बच्चे हैं. वहीं घर की दो बेटियां गंभीर रूप से जख्मी हैं. सीजफायर उल्लंघन में मोहम्मद रमजान और मालका बी (38) के अलावा तीन बच्चे फैजान (13) , रिजवान (9) और मेहरीन की मौत हो गई है.

जम्मू रेंज के आईजीपी एसडी सिंह जम्वाल ने कहा है कि पाकिस्तान की ओर से गोले दागे गए जो भारतीय क्षेत्र में गिरे. सीजफायर उल्लंघन में पांच लोगों की मौत हो गई है, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं. उन्हें हेलिकॉप्टर से एयरलिफ्ट कर अस्पताल लाया जा रहा है. पाक की ओर से फायरिंग अभी भी जारी है.

बीती चार फरवरी को भी राजौरी जिले के भिम्बर गली सेक्टर में पाकिस्तान ने सीजफायर को भारी गोलीबारी से तोड़ा. भिंबर गली के अलावा पाकिस्तान ने राजौरी के मंजाकोट सेक्टर में भी मोर्टार दागे. पाकिस्तान ने सीमा घात लगातार एलओसी पर हमला किया और एंटी गाइडेड मिसाइलें दागनी शुरू कर दी.

धोखे से शुरु हुई गोलाबारी में सेना के कैप्टन कपिल कुंडू, हवलदार रोशल लाल, रायफलमैन शुभम सिंह और रायफलमैन राम अवतार शहीद हो गए थे. सेना के बहादुर कैप्टन कपिल कुंडू तो महज 23 साल के ही थे जिनका 10 फरवरी को जन्मदिन था.

लगातार शहीद हो रहे हैं जवान

पाकिस्तान ने 2017 में 860 से अधिक बार सीज़फायर उल्लंघन किया, वहीं 2018 में ही 160 से अधिक बार सीज़फायर तोड़ चुका है.

आपको बता दें कि 2014 में 51 जवान शहीद हो गए जबकि 110 आतंकियों को मार गिराया गया. 2015 में 41 सैनिक शहीद हुए और 113 आतंकियो को ढेर किया गया.

You May Also Like

English News