पिछड़े जिलों के विकास पर जोर देने के लिए अंबेडकर जयंती पर PM मोदी करेंगे दौरा

अंबेडकर जयंती के अवसर पर मोदी सरकार तेजी से विकास कर रहे पिछड़े जिलों को सम्मानित करने की तैयारी कर रही है. नीति आयोग ने सामाजिक और आर्थिक तौर पर पिछड़े 115 पिछड़े जिलों को चुना था, जहां विकास कार्यों को गति देने का प्रयास किया गया. अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती के अवसर पर उन जिलों का दौरा करेंगे, जहां सबसे ज्यादा तरक्की हुई है. ये जानकारी नीति आयोग के एक अधिकारी ने दी है.पिछड़े जिलों के विकास पर जोर देने के लिए अंबेडकर जयंती पर PM मोदी करेंगे दौरा

नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार ने लिया एक और बड़ा फैसला, जिससे आपको लगेगा झटका…

जिलों के बीच प्रगति का मुकाबला

मोदी सरकार की 2022 तक न्यू इंडिया पहल के तहत जिन जिलों को चिन्हित किया जाएगा, उनके बीच 48 मानकों के आधार पर मुकाबला होगा. जब पीएम मोदी बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले जिलों का दौरा करेंगे, उस दौरान कैबिनेट के अन्य अधिकारी अच्छा प्रदर्शन करने वाले और भी जिलों की पहचान करेंगे.  

अति पिछड़े जिलों पर सरकार का फोकस 

पिछले हफ्ते नीति आयोग ने इन 115 जिलों के डिप्टी कमिश्नरों के साथ दो दिवसीय मीटिंग की थी. इस बैठक में केंद्र के 115 वरिष्ठ ब्यूरोक्रैट भी शामिल हुए, जिन्हें अपने-अपने राज्य कैडर के जिलों के विकास कार्यों की समीक्षा करने का काम सौंपा गया. उन जिलों की भी लिस्ट तैयार की जाएगी, जो स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, कृषि, कौशल विकास और इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास में सबसे कमतर पाए जाएंगे. ऐसे जिलों पर केंद्र और संबंधित राज्य की ओर से विशेष ध्यान दिया जाएगा.

पीएम मोदी की अधिकारियों से अपील

अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में 5 जनवरी को हुए कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 115 जिलों को कलेक्टरों और अन्य अधिकारियों को संबोधित करते हुए अपने जिलों की प्रगति पर ध्यान देने को कहा था. पीएम ने कहा था कि लोगों की मानसिकता बदलने के लिए सकारात्मक पहल और उदाहरण पेश करने की जरूरत है. पीएम ने अधिकारियों से अपील की थी कि जनवरी-फरवरी माह अपने जिले के पिछड़ेपन को दूर करने में लगा दें.

You May Also Like

English News