पीएम: ग्रामीण सड़क योजना के तहत बनी सड़कों में बड़ा गोलमाल, केंद्र ने रोक ली पेमेंट

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत सूबे में बनी नई सड़कों में बड़ा गड़बड़झाला सामने आया है। पिछले चार महीने में सड़कों की गुणवत्ता जांच के दौरान सेंट्रल और स्टेट क्वालिटी कंट्रोल विंग ने 300 सड़कों में से 92 के निर्माण पर असंतुष्टि जताते हुए इन्हें दोबारा बनाने को कहा है।
जांच के अनुसार सड़कों के किनारे कहीं पैरापिट गायब हैं तो कहीं पर सड़कों की चौड़ाई कम पाई गई। किनारों पर जरूरी साइन बोर्ड तक नहीं लगाए गए। केंद्रीय क्वालिटी कंट्रोल  विंग ने अधिशासी अभियंता को कारण बताओ नोटिस देने के साथ ठेकेदारों की पेमेंट रोक दी है।

गड़बड़ी सामने आने से लोक निर्माण विभाग की कार्यप्रणाली भी सवालों के घेरे में आ गई है। सूत्रों के अनुसार चहेते ठेकेदारों को लाभ पहुंचाने के लिए कई जगह मापदंडों को दरकिनार किया गया। अब ठेकेदारों को दोबारा से अपने खर्चे पर सड़क बनाने के निर्देश दिए गए हैं। 

लोक निर्माण विभाग के इंजीनियर इन चीफ आरपी वर्मा ने बताया कि क्वालिटी कंट्रोल विंग ने सड़कों पर जो आपत्तियां लगाई हैं, उन्हें दुरुस्त किया जा रहा है। इसकी भरपाई ठेकेदारों को अपने खर्च पर करनी होगी। तब तक पेमेंट रिलीज नहीं होगी। 

जनवरी से अप्रैल 2017 तक 300 सड़कों की गुणवत्ता जांची गई। स्टेट क्वालिटी कंट्रोल विंग ने 204 सड़कों की जांच की है। इसमें 152 सड़कें ठीक पाई गईं जबकि 52 सड़कों में कई खामियां निकलीं।
सेंट्रल क्वालिटी कंट्रोल विंग ने हिमाचल आकर अपने स्तर पर 96 सड़कों की जांच करते हुए 56 सड़कों को ठीक बताया जबकि  40 सड़कों पर आपत्ति दर्ज कराई।
केंद्रीय क्वालिटी कंट्रोल विंग ने जिला सोलन की बायरछा से घालूवाल, जिला ऊना की पंजावर से बाथड़ी और मिसरेम से पलोह, जिला सिरमौर का चांदनी कथवा और मनाल रोड, लिंक रोड सताहन, मंडी जिले की ताडू-नांदी सड़क, निहरी-रोपा बंदला, पधर से नाहुली, बगेल-कनधेर, लथेच से जनासला, कांगड़ा की अपर लंबागांव-सॉल बनेहर, बैजनाथ के पपरोला-कोठी,

 कुल्लू जिला के भुईन-शिलीधार और मगलोर पनीहार से थाचीधार सड़क में खामियां पाई गईं। स्टेट क्वालिटी विंग ने बिलासपुर जिले के हटवार-ब्रहामली, जिला चंबा का कीनाला-कुथेर रोड और पाटका-डलहौजी सड़क, हमीरपुर जिले के बारू-टापरे, कल्पा की शांग-ब्रो, कुल्लू की नोर-नीथर, मंडी जिले का लिंक रोड शुलाहरू और घाटा-बाग, नारकंडा का लिंक रोड अरोथ, सिरमौर जिले का संगड़ाह और बरली-सियून, जिला सोलन के चायल से गौरा सड़क का काम संतोषजनक नहीं है।  

You May Also Like

English News