पीएम ने लताड़ा पाक को, बुरा लगा चीन को

 लंदन में शुक्रवार को हुई बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पाकिस्तान को ‘आतंक की एक्सपोर्ट फैक्ट्री’  कहने पर चीन बौखला गया है, चीन ने पाक का समर्थन करते हुए कहा है कि आतंकवाद से निपटने के लिए पाक के प्रयासों को सराहा जाना चाहिए और उसका समर्थन करना चाहिए न कि वैश्विक मंच पर उसकी बुराई की जानी चाहिए.बीजिंग: लंदन में शुक्रवार को हुई बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पाकिस्तान को 'आतंक की एक्सपोर्ट फैक्ट्री'  कहने पर चीन बौखला गया है, चीन ने पाक का समर्थन करते हुए कहा है कि आतंकवाद से निपटने के लिए पाक के प्रयासों को सराहा जाना चाहिए और उसका समर्थन करना चाहिए न कि वैश्विक मंच पर उसकी बुराई की जानी चाहिए.  दरअसल हाल ही में नरेंद्र मोदी ने लंदन के सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर के मंच से वर्ष 2016 में नियंत्रण रेखा के पार अंजाम दिए गए सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र किया, इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान पर जोरदार प्रहार करते हुए कहा कि भारत आतंकवाद का निर्यात करने वालों को बर्दाश्त नहीं करेगा और 'करारा जवाब' देगा. पीएम मोदी ने पाक को लक्ष्य करते हुए कहा था कि " जब किसी ने आतंक की फैक्ट्री लगा ली हो और हम पर पीछे से वार कर रहा हो तो मोदी उसे उसीकी भाषा में जवाब देना जानता है  आपको बता दें कि पीएम मोदी "भारत की बात सबके साथ" कार्यक्रम में बोल रहे थे, जहां उन्होंने पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी के इस बयान पर पाकिस्तान का बचाव करते हुए चीन ने इस बात के भी संकेत दिए कि जून में किगंदाओ में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन में भी आतंकवाद पर चर्चा अहम मुद्दा रहेगा, इस संगठन में पाकिस्तान और भारत भी शामिल होंगे.

दरअसल हाल ही में नरेंद्र मोदी ने लंदन के सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर के मंच से वर्ष 2016 में नियंत्रण रेखा के पार अंजाम दिए गए सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र किया, इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान पर जोरदार प्रहार करते हुए कहा कि भारत आतंकवाद का निर्यात करने वालों को बर्दाश्त नहीं करेगा और ‘करारा जवाब’ देगा. पीएम मोदी ने पाक को लक्ष्य करते हुए कहा था कि ” जब किसी ने आतंक की फैक्ट्री लगा ली हो और हम पर पीछे से वार कर रहा हो तो मोदी उसे उसीकी भाषा में जवाब देना जानता है

आपको बता दें कि पीएम मोदी “भारत की बात सबके साथ” कार्यक्रम में बोल रहे थे, जहां उन्होंने पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी के इस बयान पर पाकिस्तान का बचाव करते हुए चीन ने इस बात के भी संकेत दिए कि जून में किगंदाओ में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन में भी आतंकवाद पर चर्चा अहम मुद्दा रहेगा, इस संगठन में पाकिस्तान और भारत भी शामिल होंगे.

You May Also Like

English News