पीएम मोदी के साथ हुआ सबसे बड़ा ‘विश्वासघात’, दोस्त ने भगवान के सामने बैठ कर डाली गद्दारी

मेलबर्न: बीते दिनों भारत दौरे पर आए ऑस्ट्रेलिया के पीएम मैलकॉम टर्नबुल ने भारत को बड़ा झटका दिया है। भारत में रहने के दौरान मैलकॉम टर्नबुल ने पीएम मोदी के साथ गजब की दोस्ती दिखाई थी और तारीफ में कसीदे पढ़े थे। लेकिन वापसी के बाद टर्नबुल ने ऑस्ट्रेलिया ने बढ़ती बेरोजगारी से निपटने के लिये 95,000 से अधिक अस्थायी विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किए जा रहे वीजा कार्यक्रम को आज समाप्त कर दिया।

अभी-अभी : योगी सरकार का सबसे बड़ा फैसला, शराब बंदी लागू करेगी नहीं…

यह वीजा रखने वालों में ज्यादातर भारत के हैं। उसके बाद ब्रिटेन और चीन का स्थान है। यह कार्यक्रम को 457 वीजा के नाम से जाना जाता है। इसके तहत कंपनियों को उन क्षेत्रों में चार साल तक विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करने की अनुमति थी जहां सक्षम ऑस्ट्रेलियाई कामगारो की कमी है।

ऑस्ट्रेलिया के पीएम मैलकॉम टर्नबुल ने कहा ‘‘हम आव्रजन देश हैं लेकिन.. ऑस्ट्रेलियाई कामगारों को अपने देश में रोजगार में प्राथमिकता मिलनी चाहिए। इसीलिए हम 457 वीजा समाप्त कर रहे हैं। इस वीजा के जरिये अस्थायी तौर पर विदेशी कर्मचारी हमारे देश में आते हैं।’’

भारत दौरे पर रहते हुए मैलकॉम टर्नबुल ने अक्षरधाम मंदिर में पूजा-अर्चना की थी और मेट्रो में बैठ दोस्ती की इबारते लिखी थीं।

You May Also Like

English News