पीएम मोदी ने कर दिया सबसे बड़ा ऐलान, बोले-2019 में मोबाइल पर लड़ा जाएगा चुनाव

नई दिल्‍ली। पीएम मोदी ने जब से देश की सत्‍ता संभाली है तभी से वह जनता के प्रिय नेता बन चुके हैं। वहीं उत्‍तर प्रदेश में मिले बहुमत से उनकी बाछें और खिल गई हैं। वह अभी से कुछ राज्‍यों के विधानसभा चुनावों और 2019 के लोकसभा चुनाव को ध्‍यान में रखकर रणनीति बना रहे हैं। इसी के मद्देनजर वे सभी राज्‍यों के सांसदों से मीटिंग करके 2019 के विजय मंत्र की बात कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कर दिया सबसे बड़ा ऐलान, बोले-2019 में मोबाइल पर लड़ा जाएगा चुनाव

2019 के विजय मंत्र

2019 के विजय मंत्र को लेकर पीएम मोदी ने की बैठकें

खबर मिली है कि यूपी-गुजरात के बाद कई अन्य राज्यों के बीजेपी सांसदों के साथ भी मोदी ने शुक्रवार को बैठक की और 2019 के विजय मंत्र के बारे में जानकारी दी। शुक्रवार को झारखंड, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना के बीजेपी सांसद पीएम मोदी से मिले। पीएम मोदी ने साफ कहा कि सियासत बदल चुकी है और सभी कार्यकर्ताओं और सदस्यों को इसके लिए तैयार रहना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि 2019 का चुनाव मोबाइल पर लड़ा जाएगा।

सांसदों से क्या कहा पीएम ने?

पीएम मोदी ने पार्टी सांसदों से साफ कहा कि आज के वक्त में मोबाइल देश के युवाओं तक पहुंचने का सबसे बड़ा माध्यम है और इसका इस्तेमाल कर अपने काम को युवाओं तक पहुंचाना जरूरी है। पीएम मोदी ने कहा कि 2019 का चुनाव मोबाइल पर लड़ा जाएगा और हमें इसके लिए तैयार रहना होगा।

सोशल मीडिया पर कैसे बढ़ाएं सक्रियता?

पीएम मोदी ने बीजेपी सांसदों ने कहा कि सभी सांसद सोशल मीडिया पर एक्टिव रहें। अपने क्षेत्र में किए जा रहे काम और नई पहलों को हाइलाइट करें। इसके साथ ही सरकार की योजनाओं को भी लोगों तक पहुंचाएं। इस मुलाकात में झारखंड, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना के बीजेपी सांसद शामिल थे। इनमें से ज्यादातर राज्य गैर बीजेपी शासित हैं। खासकर ओडिशा पर पीएम का ज्यादा फोकस है। हाल में ओडिशा में हुए स्थानीय निकाय चुनाव में बीजेपी ने अच्छा प्रदर्शन किया था।

मिशन 2019 पर अभी से सांसदों को लगाया

यूपी के नतीजों के बाद पीएम मोदी विभिन्न राज्यों से आने वाले बीजेपी सांसदों के साथ लगातार मुलाकात कर रहे हैं। जाहिर है मिशन 2019 के लिए मोदी सांसदों को काम पर अभी से लगाना चाहते हैं हालांकि अभी दो साल बाकी है। पीएम मोदी यूपी, गुजरात समेत दर्जन भर राज्यों के सांसदों से इससे पहले मिल चुके हैं।

इन बैठकों का क्या है संदेश

इस सभी बैठकों में पीएम मोदी का एक ही संदेश रहता है- गरीब लोगों के हित में कदम उठाए जाएं और पिछड़ी जातियों के कल्याण का काम आगे बढ़ाया जाए। पिछड़े समुदाय के लिए जो काम मोदी सरकार कर रही है सांसद उन्हें जनता के बीच दाकर बताएं। सूत्रों के अनुसार उज्जवला योजना जैसे कार्यक्रमों से यूपी में मिले चुनावी लाभ को आगे बढ़ाने की योजना पर बीजेपी काम कर रही है।

विपक्ष के झूठ का करें पर्दाफाश

पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि वे विपक्ष द्वारा फैलाए जा रहे झूठ का अध्ययन करें और उसका पर्दाफाश करें। पीएम ने सांसदों से कहा कि ने सही स्थिति को जनता के सामने स्पष्ट करें। लोगों को बताएं कि सरकार किन योजनाओं के जरिए गरीब लोगों के कल्याण के लिए काम कर रही है। पीएम ने विशेशरूप से जीएसटी का जिक्र किया और कहा कि विपक्ष लोगों के बीच तरह-तरह के भ्रम फैला रहा है और अगले चुनाव में इसका लाभ लेने की विपक्ष की ओर से कोशिश की जा सकती है। सांसदों को जनता के बीच जाकर सही तस्वीर बतानी होगी।

You May Also Like

English News