पीवी सिंधू की नजरें जीत पर, साइना और प्रणीत ने नाम वापस लिया

 एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता भारतीय स्टार पीवी सिंधू मंगलवार से शुरू होने वाले जापान ओपन बैडमिंटन में फाइनल हारने का सिलसिला खत्म करने के इरादे से उतरेंगी। एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली साइना नेहवाल व बी. साई प्रणीत 7 लाख डालर इनामी राशि के इस बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर सुपर 750 टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया। ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू लंबे समय से फाइनल की बाधा पार नहीं कर पा रही हैं। वह अपने अभियान का आगाज जापान की सयाका ताकाहाशी के खिलाफ करेगी। क्वार्टर फाइनल में उनका सामना तीन बार की विश्व चैंपियन कैरोलिना मारिन या जापान की अकाने यामागुची से हो सकता है।

किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणय भी विश्व चैंपियनशिप व एशियाई खेलों में मिली नाकामी का गम दूर करने के इरादे से उतरेंगे। श्रीकांत का सामना पहले दौर में चीन के हुआंग यूशियांग से होगा जबकि प्रणय इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी से खेलेंगे, जिन्होंने एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता है। धार (मप्र) के समीर वर्मा का सामना कोरिया के ली डोंग कियुन से होगा।

पुरूष युगल में राष्ट्रकुल खेलों के रजत विजेता सात्विक साईराज रैंकीरेड्डी व चिराग शेट्टी का सामना जापान के ताकेशी कामुरा व केइगो सोनोडा से होगा। मनु अत्री व बी. सुमित रेड्डी की टक्कर मलेशिया के गोह वी. शेम व तान वी. कियोंग से होगी। महिला युगल में अश्विनी पोनप्पा व एन. सिक्की रेड्डी का सामना चांग यि ना और जुंग क्युंग युन से होगा। मिश्रित युगल में प्रणव जेरी चोप़़डा और सिक्की रेड्डी की भिड़ंत इंडोनेशिया के तोंतोवी अहमद व लिलियाना नात्सर से होगी।

You May Also Like

English News