पीस पार्टी के अध्यक्ष डाक्टर अय्यूब के खिलाफ एक और एफआईआर दर्ज !

मुरादाबाद : पीस पार्टी के राष्टï्रीय अध्यक्ष व पूर्व विधायक डाक्टर अय्यूब की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। मडिय़ांव में दर्ज युवमी के दुराचार और गैर इरादतन हत्या के बाद अब डाक्टर अय्यूब पर मुरादाबाद में एक प्रत्याशी से टिकट देने के नाम पर रुपया लेने का मामला दर्ज कराया है। यह मामला कोर्ट के आदेश पर दर्ज किया गया है।

 


मुरादाबाद में देहात विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा चुनाव लड़े निर्दलीय प्रत्याशी फईम चौधरी के प्रार्थना पत्र पर कोर्ट ने पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉक्टर अय्यूब के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए थे। भोजपुर पुलिस ने डाक्टर अय्यूब के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है। आरोप है कि धोखाधड़ी करके फर्जी सिबल फार्म ए व बी भरकर हस्ताक्षर कर 2.5 लाख रुपये लेने के बाद भी उनको पीस पार्टी ने टिकट नहीं दिया गया।
भोजपुर थाना क्षेत्र के झादेवाला निवासी फईम अहमद ने कोर्ट में याचिका दायर करके कहा था कि विधानसभा क्षेत्र 27 मुरादाबाद देहात से चुनाव लडऩे के लिए पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मुहम्मद अय्यूब से संपर्क किया। टिकट के एवज में उनसे डॉ अयूब ने ढाई लाख रुपये पार्टी फंड में जमा करवाया। इसके बाद सिंबल फार्म.ए व बी भरकर दिया था। इसी आधार पर उन्होंने 24 जनवरी को पीस पार्टी के प्रत्याशी के रूप में नामांकन कराया और चुनाव चिह्न गिलास की मांग की। 30 जनवरी को रिटर्निंग अफसर ने बताया कि चौधरी सौलत अली ने भी पीस पार्टी से जारी फार्म ए और बी दिया। इस कारण फईम का फार्म बी निरस्त कर दिया गया। आरओ ने 30 जनवरी को उन्हें निर्दलीय प्रत्याशी मानकर चुनाव चिह्न गैस सिलेंडर आवंटित किया। इससे उनके मतदाताओं के भ्रमित होने के साथ उन्हें आर्थिक और मानसिक क्षति भी हुई।

You May Also Like

English News